'ओम पुरी ने बनाया अच्छा एक्टर'

इमेज कॉपीरइट Getty Images

अर्ध सत्य, मिर्च मसाला, आक्रोश जैसी फ़िल्मों में बेजोड़ अभिनय करने वाले एक्टर ओम पुरी को इस दुनिया से गए दो हफ़्ते गुज़र चुके हैं लेकिन उनके चाहने वाले अब भी उन्हें याद कर ग़ुजरे दिनों की बात कर रहे हैं.

अपनी एक्टिंग से हर किरदार में जान डालने वाले अभिनेता मनोज बाजपेई मानते हैं कि वो उनकी अदाकारी में निखार ओम पुरी की वजह से आया.

मनोज बाजपेई कहते हैं कि ओम जी एक बहुत बड़े कारण थे मेरे अच्छे एक्टर बनने में. उन्होंने मुझे एम्बिशन दिया. उनके काम ने हमें ये सिखाया कि हम लोग जो छोटी जगह से आते हैं वो किस तरह सपने देखें और कहाँ तक पहुँच सकते हैं. उन्होंने हमें वो ऊंचाई दिखाई. क़ाबिलियत दिखाई जिसे पाने के लिए हम आज तक संघर्ष कर रहे हैं.

ऐसे गुज़री ओम पुरी की आख़िरी शाम

याद रहेगी ओम पुरी की मुस्कान

इमेज कॉपीरइट Getty Images

मनोज कहते हैं कि ओम पुरी एक महान नायक थे और बहुत ही महान व्यक्ति थे. उनका रिश्ता एक चपरासी और अमीर आदमी के साथ समान था. वो इंसान को पैसे से नहीं तौलते थे मैंने शायद ही ये ख़ासियत किसी और व्यक्ति में देखी.

अलीगढ़ और बुधिया सिंह बोर्न टू रन जैसी फ़िल्म करने वाले एक्टर मनोज कहते हैं कि ओम पुरी कहते थे कि मैं तुम्हारी ये फ़िल्म देखना चाहता हूँ लेकिन देख नहीं पा रहा हूँ . ओम भाई बहुत व्यस्त रहते थे. कभी एक शहर में नहीं टिकते थे. उनके जानने वाले हज़ारों थे.

मुझ जैसे हज़ारों लोगों के साथ एक जैसा रिश्ता बनाकर रखना थोड़ा मुश्किल है लेकिन ओम भाई ऐसा कर पाते थे. ओम भाई बहुत हंसमुख इंसान थे उन्हें याद करके कोई उदास नहीं हो सकता.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

मनोज बाजपेई कहते हैं, "अगर ओम पुरी की ज़िन्दगी पर फ़िल्म बनती है तो उस रोल को मुझसे अच्छा कोई नहीं कर सकता क्योंकि मैं ओम जी को करीब से जानता हूँ."

मनोज बाजपाई राम गोपाल वर्मा की सरकार 3 में नज़र आएंगे.

राम गोपाल वर्मा के साथ काम करने के बारे में मनोज कहते है कि बहुत साल बाद मैं राम गोपाल वर्मा के साथ काम कर रहा हूँ बहुत एक्ससाइटेड हूँ फ़िल्म में अमिताभ हैं तो उसका भी अलग मज़ा है. मेरा रोल फ़िल्म में छोटा है लेकिन महत्वपूर्ण है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे