बिना अंग्रेज़ी जाने ऑस्कर तक पहुंचे सनी पवार

सनी पवार

ऑस्कर के लिए नोमिनेट होने वाली फ़िल्म 'लायन' में सारू की भूमिका के लिए सनी पवार को काफी सराहना मिल रही है.

सनी ने इस फिल्म में देव पटेल के बचपन की भूमिका निभाई है. देव पटेल लायन के लिए बेस्ट सपोर्टिंग एक्टर कैटिगरी में ऑस्कर अवॉर्ड पाने से चूक गए.

सनी को हाल के सालों में फ़िल्मों में आने वाले बाल कलाकारों में बेहतरीन कलाकार माना जा रहा है.

फ़िल्म 'लायन' सनी की पहली फ़िल्म है. इस फ़िल्म में काम करते समय वो 6 साल के थे.

हाल में सनी ने वॉल स्ट्रीट जर्नल को बताया था कि फ़िल्म की कहानी बहुत डरावनी थी लेकिन साहसी भी और उन्हें ये कहानी समझने में उन्हें काफी समय लगा था.

सनी एक अन्य फ़िल्म 'लव सोनिया' में भी काम कर रहे हैं.

सनी जहां जाते हैं अपने ट्रांसलेटर को साथ लेकर जाते हैं जो उन्हें सवाल हिंदी में समझाते हैं. सनी हिंदी में ही सवालों के जवाब देते हैं.

इमेज कैप्शन,

ऑस्कर रेड कार्पेट पर सनी के पीले फीतों वाले हरे जूतों की भी तारीफ़ हुई.

ऑस्कर रेड कार्पेट पर उन्हें 8 साल का सबसे प्यारा कलाकार कहा जा रहा है.

फ़िल्म की पटकथा लिखने वाले ल्यूक डेविस के ने फ़िल्म के लिए बाफ्टा अवार्ड लेते वक्त सनी के लिए कहा था कि वो अभी कई सालों के लिए महत्वपूर्ण खोज बने रहेंगे.

फ़िल्म 'लायन' का नामांकन बेस्ट फ़िल्म कैटगरी में किया गया है.

इमेज कैप्शन,

'लायन' के मुख्य कलाकार देव पटेल के साथ सनी पवार

इमेज कैप्शन,

निकोल किडमैन के साथ सनी पवार

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)