क्या है इस साल ऑस्कर में जीती 'द शेप ऑफ़ वॉटर' फ़िल्म की कहानी

  • 5 मार्च 2018
द शेप ऑफ वॉटर इमेज कॉपीरइट TheAcademy/Twitter

भारत समेत दुनिया के ज़्यादातर मुल्क़ों में शायद इस वक्त की सबसे बड़ी लड़ाई पहचान की है.

जहां अपनी पहचान को ऊपर या दूसरे पर थोपने की कोशिशें की जा रही हैं. मैक्सिको से लेकर भारत के उत्तर पूर्व में गोरखालैंड की मांग करने वालों तक.

ऐसे में मैक्सिको के डायरेक्टर गीएर्मो डेल टोरो की फ़िल्म 'द शेप ऑफ वॉटर' का ऑस्कर अवॉर्ड्स में 13 नामांकन मिलना और बेस्ट फ़िल्म समेत चार ऑस्कर अवॉर्ड जीतना स्वभाविक है.

जिन लोगों ने ये फ़िल्म नहीं देखी है, उनके ज़हन में सवाल उठ सकता है कि इस फ़िल्म की कहानी क्या है?

इमेज कॉपीरइट foxsearchlight/trailer grab
Image caption एलिसा की जलीय जीव से पहली मुलाकात

'द शेप ऑफ वॉटर' की कहानी

फ़िल्म की कहानी 1960 के दौर की है. जब सोवियत संघ और अमरीका के बीच शीतयुद्ध चल रहा था. फ़िल्म की मुख्य किरदार एलिसा (सैली हॉकिन्स) गूंगी हैं. जो बल्टीमोर की एक ख़ुफिया हाई सिक्योरिटी सरकारी लैब में सफाई करती है.

इस लैब में एलिसा के साथ ज़ेल्डा (ओक्टेविला स्पेंसर) भी काम करती है. ज़ेल्डा के अलावा एलिसा पड़ोस में रहने वाले कलाकार जाइल्स (रिचर्ड जेनकिन्स) को जानती है. यही दो लोग एलिसा के अपने हैं.

इमेज कॉपीरइट foxsearchlight/trailer grab

इन लोगों के अतीत की कहानी की झलक भी फ़िल्म में मिलती है. जिस लैब में एलिसा काम करती है, वहां एक वैज्ञानिक डॉक्टर हॉफस्टेटलर (माइकल स्टूलबर्ग) भी है. डॉक्टर हॉफस्टेटलर असल में रूसी जासूस होता है.

फ़िल्म का पांचवां और सबसे अहम किरदार बाकी सबसे बिलकुल अलग है. ये पांचवां किरदार है लैब के एक टैंक में रहने वाला जलीय जीव. इस किरदार को निभाया है डग जोन्स ने.

ये जलीय जीव ज़िंदगी और भावनाओं को समझता और जानता है. फ़िल्म में एक संवाद है, जिसे एलिसा संकेतों के ज़रिए कहती है.

  • 'जब वो मुझे देखता है, और जैसे वो मुझे देखता है, तब वो नहीं जानता कि मुझमें क्या कमी है. कि कैसे मैं अधूरी हूं. वो मुझे वैसे ही देखता है जैसी मैं हूं'
इमेज कॉपीरइट foxsearchlight/trailer grab

इस जलीय जीव को एक नदी से आर्मी ऑफिसर (माइकल शैनन) पकड़कर बंदी बना लेता है. इस जीव के बारे में फ़िल्म में ये दिखाया जाता है कि वो नदी के किनारे बसे कबीलों का देवता है.

ज़ाहिर है इस जीव को लैब में टॉर्चर किया जाता है. इस जलीय जीव से एलिसा की क़रीबियां बढ़ती हैं और फ़िल्म की कहानी आगे बढ़ती है.

एलिसा फ़िल्म में इस जलीय जीव को बचाने की कोशिशें करती हुई नज़र आती है. ये कोशिशें कभी इस जलीय जीव को अपने बाथटब में छिपाती तो कभी कहीं और.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए