सलमान ख़ान के लिए गाने की तमन्ना है: हेमंत बृजवासी

इमेज कॉपीरइट COLORS PR

टीवी चैनल कलर्स के सिंगिंग रियलिटी शो 'राइज़िंग स्टार 2' के विजेता मथुरा के हेमंत बृजवासी को यक़ीन नहीं हो रहा कि उन्होंने ख़िताब जीत लिया है. उनके हिसाब से उनके कंटेस्टेंट भी बहुत दमदार थे और आखिर तक पता नहीं था कि कौन जीतेगा.

हेमंत अपने दर्शकों के आभारी हैं जिन्होंने वोट देकर उनका सपना पूरा किया. हेमंत का कहना है, ''संगीत में दुआ से बात बनती है. माँ-बाप को प्यार देना चाहिए और बुज़ुर्गों की सेवा करनी चाहिए फिर आपको सफलता मिलती है.''

अपने गायकी के सफ़र की शुरुआत को साझा करते हुए हेमंत कहते हैं, "जब मैं छोटा था तब जागरण के दिन पापा रात को 2 बजे उठाते थे. साफ़ा से मेरा मुँह पोछकर चेहरे पर क्रीम लगाते थे. मुझे एक शेरवानी पहनाई जाती थी और मैं गाता था 'कभी प्यासे को पानी पिलाया नहीं, बाद में अमृत पिलाने का क्या फ़ायदा.'

पहले ही मिला ब्रेक

इमेज कॉपीरइट COLORS PR

जहाँ अक्सर सिंगिंग रियलिटी शो के विजेताओं के बारे में कहा जाता है कि उन्हें हिंदी फ़िल्मों में काम मिलना मुश्किल होता है, वहीं हेमंत बृजवासी ख़िताब जीतने से पहले ही तीन बॉलीवुड फ़िल्मों में गाना गा चुके हैं.

बचपन से ही गायकी से जुड़े रहे 20 साल के हेमंत बृजवासी ने 2009 में बच्चों के सिंगिंग रियलिटी शो 'सारेगामा लिटिल चैम्प' भी जीता था.

राइज़िंग स्टार 2 में भाग लेने की उनकी मंशा थी कि वो हिंदी फ़िल्मों में बतौर गायक कदम रखें. हेमंत ने फ़िलहाल तीन फ़िल्मों के लिए गाना गाया है.

इनमें शामिल है दिलजीत दोसांझ की आगामी फ़िल्म 'सूरमा' जिसका संगीत शंकर महादेवन ने दिया है और बोल गुलज़ार साहब ने लिखे हैं. वो अनिल शर्मा की आगामी फ़िल्म और हिमेश रेशमिया की फ़िल्म में भी गा रहे हैं.

सलमान के लिए गाने की ख़्वाहिश

जहाँ हेमंत ने हिंदी फ़िल्म संगीत में कदम रख दिया है वहीं उनकी ख़्वाहिश है कि वो सुपरस्टार सलमान ख़ान के गाने को अपनी आवाज़ दें.

इमेज कॉपीरइट PA

"सलमान ख़ान के लिए गाना गाना चाहता हूँ. मेरे पसंदीदा एक्टर हैं. मैं उनका दीवाना हूँ. बस वो मेरा थोड़ा इंतज़ार कर लें. तब तक फ़िल्में ना छोड़ दें. मैं उनके लिए ज़रूर गाना चाहता हूँ. मैं आशा करता हूँ कि सलमान ख़ान की आवाज़ वाली बात मेरी आवाज़ में आ जाए तो मैं उनके लिए गाऊं."

हालांकि हेमंत सलमान ख़ान से अलग-अलग शो में तीन बार मिल चुके हैं और उस दौरान उनके साथ गाना भी गा चुके हैं.

मथुरा शहर से ताल्लुक रखने वाले हेमंत को उम्मीद है कि उनकी ये उपलब्धि उनके जीवन में बहुत बड़ा बदलाव लाएगी और अब लोग शायद उनकी बात सुनेंगे और समझेंगे.

"जब आप कुछ नहीं होते हैं तो लोग आपकी सही बात को भी ग़लत बता देते हैं. पर अगर आप कुछ बन जाते हैं तो लोगों को आपकी ग़लत बात भी सही लगती है. जब मैं सही बात कहता था तब लोगों को ग़लत लगती थी. अब जो कहूंगा वो शायद सही लगे. दुनिया में हर तरह के लोग होते हैं. आपको प्रोत्साहित करना चाहिए. मेहनत करनी चाहिए. मैंने मेहनत की उसका फल मिला इसलिए अब मैं बीती बातों के बारे में नहीं सोचता."

हेमंत को शो जीतने पर 20 लाख की रकम मिली है और हेमंत ने तय किया है कि वो उन पैसों से अपने लिए पसंदीदा गाड़ी ख़रीदेंगे.

अब हेमंत का सपना है कि वो बतौर गायक अपने आइडल पाकिस्तानी गायक नुसरत फ़तेह अली ख़ान की तरह बनें. "मुझे नुसरत फ़तेह अली ख़ान सहाब की तरह बनना है. ऐसा ही कुछ करना है कि लोग मरने के बाद भी याद रखें."

ये भी पढ़ें:

चीनी रियलिटी शो में अब बच्चे नहीं दिखेंगे

रियलिटी शो कर रहे हैं बच्चों से खिलवाड़

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं.आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे