दिलीप कुमार का म्यूज़ियम बनवाना चाहती हैं सायरा बानो

  • 20 दिसंबर 2018
सायरा बानो और दिलीप कुमार इमेज कॉपीरइट Twitter/Dilip Kumar

अपने समय की मशहूर अदाकारा सायरा बानो ने कई बार ट्वीट करके प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलने का समय मांगा है.

16 दिसंबर को सायरा ने अपने पति दिलीप कुमार के बंगले को लेकर चल रहे प्रॉपर्टी विवाद में उनसे मदद की गुजारिश की थी, हालांकि प्रधानमंत्री 18 दिसंबर को मुंबई में थे लेकिन सायरा बानो की उनसे मुलाकात नहीं हुई.

वयोवृद्ध अभिनेता दिलीप कुमार का मुंबई के घर को लेकर पिछले 10 बरसों से चल रहा विवाद अब और भी ज्यादा गहरा गया है. क्योंकि सायरा बानो ने बिल्डर समीर भोजवानी की शिकायत महाराष्ट्र के सीएम देवेंद्र फडणवीस के साथ, पीएम नरेंद्र मोदी से की है.

बीबीसी ने बिल्डर समीर भोजवानी और उनके वकील अमित देसाई से फ़ोन पर बात करने की कई कोशिशें कीं लेकिन उन्होंने इस मामले पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

मुंबई पुलिस के प्रवक्ता मंजूनाथ सिंगे ने पत्रकारों को बताया कि "इस मामले को जल्दी और कानून के मुताबिक निबटाया जाएगा. हमने अपनी तरफ़ से पूरा सहयोग देने का आश्वासन दिया है."

यूँ आए दिन हजारों लोग अपने प्रॉपर्टी या अन्य झगड़ों को लेकर अपने राज्य के मुख्यमंत्री सहित देश के गृहमंत्री और प्रधानमंत्री से मदद की गुहार लगाते रहते हैं. लेकिन मामला जब दादा साहब फाल्के अवार्ड से सम्मानित और लोकप्रिय अभिनेता 96 वर्षीय दिलीप कुमार का हो तो बात सुर्ख़ियों में आ ही जाती है.

दिलीप कुमार पिछले करीब 10 बरसों से अपनी खराब तबीयत के कारण खुद इस तरह के मामलों को हल करने की स्थिति में नहीं हैं इसलिए उनकी पत्नी सायरा उनकी जगह खुद ट्वीट करके इस लड़ाई को लड़ रही हैं.

सायरा बानो इस मामले में क्या कहती हैं और क्या है उनका दर्द. इस पर उनसे हुई एक ख़ास बातचीत.

दिलीप साहब के बंगले को लेकर आपका विवाद तो पिछले दस साल से चल रहा है लेकिन अब ऐसा क्या हुआ कि आपको इस सबको लेकर प्रधानमंत्री मोदी तक को ट्वीट करके उनसे मदद मांगनी पड़ी.

इमेज कॉपीरइट Twitter/Dilip Kumar

असल में हम पिछले दस साल से यह लड़ाई लड़कर परेशान हो चुके हैं. मेरी इच्छा है कि दिलीप साहब जिस घर में बरसों रहे, अल्लाह के फज़ल से उस घर को फिर से डेवेलप करके वहां उनका म्यूजियम बनवाना चाहती हूँ. जहाँ उनकी तमाम यादगार चीज़ों के साथ उनको मिले अवार्ड्स वगैरह रखे जा सकें. जिससे उनकी यादें कायम रहें. जैसे बहुत से विदेशी कलाकारों के भी म्यूजियम बने हुए हैं. मैं चाहती हूँ कि इस म्यूजियम का उदघाटन दिलीप साहब खुद अपने हाथों से करें. लेकिन बिल्डर समीर भोजवानी हमको लगातार तंग कर रहा है. जिससे हमारा यह सपना पूरा होने में दिक्कत आ रही है.

कल मुंबई में आपकी प्रधानमंत्री से मुलाकात नहीं हो सकी लेकिन क्या उनकी ओर से या उनके कार्यालय से इस बारे में आपसे किसी ने संपर्क किया?

इमेज कॉपीरइट Twitter/Dilip Kumar

नहीं, अभी किसी ने संपर्क तो नहीं किया जब कुछ ऐसा होगा तब मैं आपको बता दूंगी. हाँ, हमको पता चला है कि पीएम ने इस बारे में सीएम को कुछ करने की हिदायत दी है. अब देखें क्या होता है. यदि जरुरी हुआ तो मैं प्रधानमंत्री से मिलने दिल्ली भी जा सकती हूँ.

आपने इस बारे में क्या अमिताभ बच्चन से बात की. वह दिलीप साहब का बहुत सम्मान करते हैं. आपके उनसे अच्छे सम्बन्ध हैं और उनके मोदी जी से. शायद वह आपकी मोदी जी से मुलाकात करा दें!

मैं खुद अमिताभ जी को कहकर उन्हें क्यों तकलीफ दूँ. जब मैं दिलीप साहब जैसी हस्ती के नाते खुद माननीय पीएम और सीएम से मिलने और मदद की मांग कर रही हूँ, गुजारिश कर रही हूँ तो मैं समझती हूँ कि उन्हें हमारी बात सुननी चाहिए.

अब आपआगे क्या करेंगी और आपको क्या उम्मीद है?

मैं दो दिन से लगातार वकीलों के साथ बातचीत और सलाह मशवरा करके कोर्ट की क्रिसमस और नए साल की छुट्टियाँ होने से पहले कुछ आगे कदम उठाना चाहती हूँ. साथ ही अपनी फिल्म इंडस्ट्री और देश की बाकी बड़ी हस्तियों से उम्मीद करती हूँ कि उन्हें दिलीप साहब के हक़ में खुद आगे आकर सामने आना चाहिए और दिलीप साहब के हक़ में बोलना चाहिए. सरकार को हमारा साथ देना चाहिए जिससे दिलीप साहब की फतह हो, जीत हो.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार