जूही चावला से सात साल चला आमिर ख़ान का झगड़ा

  • 28 जनवरी 2019
आमिर ख़ान इमेज कॉपीरइट SPICE PR

भारत में सेलिब्रिटी शादियाँ और उनके शादी में ख़र्चे अक्सर चर्चा का विषय बनते है.

पिछले साल ईशा अंबानी, दीपिका- रणवीर, प्रियंका-निक और सोनम ने बड़े शानदार तरीक़े से शादियाँ रचाई वही आमिर ने बताया की उनकी पहली शादी का ख़र्चा मात्रा 10 रुपए से भी कम रहा था.

बीबीसी से रूबरू हुए आमिर ने बताया उनकी पहली शादी रीना दत्ता से 1986 में गुप्त रूप से हुई थी.

वो कहते हैं, "रीना के साथ मेरी शादी काफ़ी किफ़ायती रही. मैंने घर से बांद्रा स्टेशन के लिए 211 की बस पकड़ी जिसमें मुझे 50 पैसे लगे. बांद्रा वेस्ट में बस से उतरकर मैं बांद्रा ईस्ट में पुल पार कर हाईवे की तरफ पैदल ही निकल गया. हाईवे पार कर गृह निर्माण घर आता है जहाँ शादी रजिस्ट्रार होता था वहीं तीन गवाहों के सामने शादी रचाई. 10 रूपए के अंदर मेरी शादी हो गई"

इस गुप्त शादी का आमिर ख़ान के माता पिता को भी इल्म नहीं था. कारण पूछने पर आमिर ने कहा कि उनकी बायोपिक में खुलासा होगा कि क्यों उनके माता पिता को इस गुप्त शादी के बारे में कुछ नहीं बताया गया.

अपनी बायोपिक में वो अपने बड़े बेटे जुनैद खान को उनका क़िरदार करता देखना चाहेंगे.

कौन था आमिर की शादी का गवाह

रीना दत्ता से उनकी गुप्त शादी के गवाह उनके ख़ास दोस्त सत्यजीत भटकल, उनकी पत्नी स्वाति भटकल और सत्यजीत के भाई आनंद रहे थे.

इमेज कॉपीरइट Twitter/AamirKhan

स्वाति भटकल के साथ आमिर ने सत्यमेव जयते भी किया है और अब टीवी फ़िल्म "रूबरू रौशनी" से जुड़े हैं.

"रूबरू रौशनी" तीन सच्ची कहानी को दर्शाते हुए क्षमा भाव के महत्व को बताती है.

जूही से सात साल तक चला झगड़ा

क्षमा भाव का प्रचार कर रहे आमिर खान ने माना कि उन्होंने अपने निजी जीवन में क्षमा भाव काफी देरी से अपनाया.

जूही चावला से उन्होंने छोटे से झगड़े के लिए सात साल बात नहीं की.

आमिर इस घटना के बारे में बताते हुए कहते हैं, "मेरी और जूही का झगड़ा छोटी सी बात पर इश्क़ फ़िल्म के सेट पर 1997 में हुआ था. मैं इतना रूठा हुआ था कि फ़िल्म की शूटिंग के दौरान मैं जूही से 50 फुट की दूरी पर बैठता था. ना हेलो कहता था ना बाय कहता था सिर्फ़ काम काज के लिए ही बात करता था. सात साल तक हमने एक दूसरे से बात नहीं की."

इमेज कॉपीरइट Spice PR

आमिर ख़ान और जूही की ये अनबन 2003 में दूर हुई जब आमिर खान और उनकी पहली पत्नी रीना की डाइवोर्स की खबरें आने लगी.

उस दौरान आमिर किसी से मिलते जुलते नहीं थे. रीना और आमिर के रिश्ते को क़रीब से जानने वाली जूही चावला ने आमिर ख़ान को फ़ोन किया और शादी को जोड़ने की पहल की और उनके घर मिलने आई.

आमिर को ख़ुशी है कि उनकी तकलीफ़ की घड़ी में जूही ने चुप्पी तोड़ी और उनसे बातचीत शुरू की.

जैन धर्म से प्रेरित

आध्यात्मिकता की तरफ़ झुकाव रखने वाले आमिर खान ने माना कि जैन धर्म की विचारधारा का उनपर बहुत गहरा असर है जिसमें शामिल है क्षमा भाव, अहिंसा, जिस चीज़ की ज़रूरत हो वही इस्तेमाल करे और अनेकांतवाद.

पिछले साल आमिर खान की फ़िल्म "ठग्स ऑफ़ हिंदुस्तान" को दर्शकों ने नापसंद किया और फ़िल्म की नाकामयाबी की ज़िम्मेदारी आमिर ने ली.

फ़िल्म के फलॉप होने पर और दर्शको में बुरे रवैये पर आमिर कहते हैं कि,"मैंने फ़िल्म की फ्लॉप होने की पूरी ज़िम्मेदारी इसलिए ली क्योंकि दर्शक मेरे नाम पर फ़िल्म देखने आए थे. दर्शकों को पूरा अधिकार है जो वो कहना चाहते हैं फिर भले ही वो कितना भी कड़वा क्यों ना हो. बहुत लम्बे समय के बाद मेरी कोई फ़िल्म फ्लॉप हुई है. लोगों को भड़ास निकलने का मौका मिला. एक अच्छी फ़िल्म करके ही मैं इससे उबर सकता हूँ."

फ़िलहाल आमिर खान तय करने में व्यस्त है कि वो अगली फ़िल्म कौन सी करेंगे जिसका खुलासा वो अगले एक महीने में करेंगे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार