वीरू देवगन: स्टंट की दुनिया के जानेमाने नाम नहीं रहे

  • 27 मई 2019
वीरू देवगन और अजय देवगन इमेज कॉपीरइट glitterandglamourindia
Image caption अपने पिता वीरू देवगन के साथ अभिनेता अजय देवगन

बॉलिवुड अभिनेता अजय देवगन के पिता और स्टंट मास्टर वीरू देवगन का मुंबई में निधन हो गया है. वीरू देवगन एक जानेमाने एक्शन निर्देशक थे और उन्होंने कई सुपरहिट फ़िल्मों में स्टंट कोरियोग्राफ़ किये थे.

77 साल के वीरू देवगन ने 27 मई को मुंबई में अंतिम सांस लीं. वो लंबे समय से बीमार चल रहे थे. उनकी मौत की ख़बर सामने आते ही सोशल मीडिया पर फ़िल्म जगत से जुड़े लोग अपना शोक व्यक्त करने लगे.

वीरू देवगन अस्सी के दशक में एक्शन और स्टंट की दुनिया के प्रसिद्ध नाम थे. वो दौर एंग्री यंग मैन और एक्शन फ़िल्मों का था जिनमें वीरू देवगन ने कई एक्शन दृश्यों का निर्देशन किया. उन्हेंने क़रीब 150 से ज़्यादा फ़िल्मों में एक्शन और फाइट सीन कोरियोग्राफ़ किए थे.

वह एक्शन निर्देशन के साथ-साथ फ़िल्म निर्देशन भी कर चुके हैं. उन्होंने 1999 में आई फ़िल्म 'हिंदूस्तान की क़सम' बनाई थी.

इमेज कॉपीरइट Facebook/ @AjayDevgn

घर से भागकर आए मुंबई

अमृतसर में जन्में वीरू देवगन 14 साल की उम्र में घर छोड़कर मुंबई में क़िस्मत आज़माने चले आए थे. वो ख़ुद हीरो बनना चाहते थे. इसके लिए उन्होंने काफ़ी संघर्ष किया और मुंबई में रहने के लिए अलग-अलग काम भी किये.

लेकिन, जब उन्हें अभिनय में सफलता नहीं मिली तो उन्होंने एक्शन निर्देशन पर काम करना शुरू कर दिया. उन्होंने लाल बादशाह, इश्क़, इंकार, मिस्टर नटवरलाल, क्रांति, हिम्मतवाला, शहंशाह, त्रिदेव, बाप नंबरी बेटा दस नंबरी, फूल और कांटे, आज का अर्जुन, क़यामत और ख़ून भरी मांग जैसी फ़िल्मों में एक्शन दृश्यों का निर्देशन किया.

अजय देवगन की 'फूल और कांटे' फ़िल्म में दो बाइक पर सवार होने वाल एक्शन सीन काफ़ी लोकप्रिय भी हुआ था.

लेकिन, हीरो बनने की चाह अब भी उनके दिल में बाक़ी थी तो उन्होंने अपने बड़े बेटे अजय देवगन को हीरो बनाने का फ़ैसला लिया.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

हालांकि, अजय देवगन ने सोनी टीवी के एक शो 'कपिल शर्मा शो' में बताया था कि वह कभी अभिनय में नहीं आना चाहते थे. उन्होंने असिस्टेंट डायरेक्टर के तौर पर करियर की शुरुआत की थी. पर पिता का मानना था कि अजय को अभिनेता बनना चाहिए और उन्हीं के कहने पर अजय देवगन ने इस बारे में सोचना शुरू किया था.

कुछ पिता की ख्वाहिश, तो कुछ अजय देवगन की मेहनत और वो फ़िल्मी दुनिया के सुपरस्टार बन गए. हालांकि, वीरू देवगन ने ख़ुद भी सौरभ, क्रांति और सिंघासन जैसी फ़िल्मों में अभिनय किया था.

इमेज कॉपीरइट Glitterandglamourindia

वीरू देवगन के दो बेटे अजय व अनिल देवगन और दो बेटियां हैं. उनकी पत्नी का नाम वीणा देवगन है.

वीरू देवगन की अंतिम यात्रा में शामिल होने शाहरुख़ ख़ान, एशवर्या राय, अभिषेक बच्चन, संजय दत्त, महेश भट्ट और साजिद ख़ान समेत कई फ़िल्मी सितारे पहुंचे.

इमेज कॉपीरइट glitterandglamourindia

साथ ही सोशल मीडिया पर भी उनके निधन पर शोक ज़ाहिर किया गया. अभिनेता अुनपम खेर ने ट्वीट किया, ''वीरू देवगन जी के निधन की ख़बर सुनकर बेहद दुखी हूं. उनके साथ कई फ़िल्मों में काम किया. वो एक महान एक्शन निर्देशक थे.''

अभिनेता अक्षय कुमार ने ट्विटर पर लिखा है, ''वीरू देवगन के निधन के बारे में सुनकर बहुत दुख हुआ. फ़िल्म जगत के बेहतरीन एक्शन निर्देशकों में से एक थे.''

फ़िल्म निर्माता महेश भट्ट ने ट्वीट किया है, ''वीरू देवगन और मैंने 70 के दशक में एकसाथ करियर शुरू किया था. मुझे याद है कि अजय देवगन की पहली फ़िल्म रिलीज़ होने पर उन्होंने मुझसे कहा था, 'अजय को एक महान अभिनेता बनाना'. आख़िरकार अजय और मैंने जख़्म फ़िल्म में एकसाथ काम किया जिसके लिए उन्हें बेस्ट एक्टर का पहला नेशनल अवॉर्ड मिला.''

फ़िल्म अभिनेता राज बब्बर ने लिखा है, ''वीरू देवगन को खोना एक निजी नुक़सान है. मुझे याद है कि मैंने अमीरी ग़रीबी और इतिहास आदि फ़िल्मों में उनके साथ काम किया था.''

सोशल मीडिया वीरू देवगन की पुरानी तस्वीरों व पुरानी फ़िल्मों के पोस्टर्स से भर गया है और लोग उन्हें श्रद्धांजलि दे रहे हैं. वीरू देवगन इमोर्टल मेमोरीज़ अवॉर्ड और लाइफटाइम अचीवमेंट अवॉर्ड से भी नवाजे जा चुके हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूबपर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे

संबंधित समाचार