2020 में सस्पेंस, थ्रिलर से लेकर बायोपिक फ़िल्में होंगी पर्दे पर

  • 7 जनवरी 2020
अमिताभ बच्चन और आयुष्मान खुराना इमेज कॉपीरइट rising sun Films
Image caption 'गुलाबा सिताबो' में अमिताभ बच्चन और आयुष्मान खुराना

यूँ तो अमिताभ बच्चन सुर्खियों में रहते ही हैं लेकिन साल 2019 के आख़िर में निर्देशक अनुराग कश्यप के इस ट्वीट से बिग बी कुछ ज़्यादा ही चर्चा में आ गए जहाँ अनुराग ने लिखा था, इस बार फ़र्क़ उन्नीस बीस का नहीं है सर, इस बार फ़र्क़ बहुत बड़ा है, फ़िलहाल आप कृपया अपनी सेहत का ख़याल रखें.अपने हिस्से का आपने 70 के दशक में ही कर दिया था, तबसे अपने अंदर का बच्चन हम अपने अंदर लेकर घूम रहें हैं. इस बार सामने गब्बर हो या LION या फिर शाकाल.... हम भी देखेंगे.

ये उस ट्वीट के जवाब में था जहाँ अमिताभ बच्चन ने लिखा था- नया साल आने में बस कुछ ही दिन बाक़ी हैं. ज़्यादा परेशान होने की बात नहीं, बस 19-20 का ही फ़र्क़ है.

ये दो ट्वीट दिखाते हैं कि बॉक्स ऑफ़िस के उतार-चढ़ाव से इतर 2019 में देश के हालात को लेकर राजनीतिक और वैचारिक खाँचों में बंटा नज़र आया हिंदी सिनेमा. वो लोग जो इस छोर थे या उस छोर और वो जो ख़ामोश रहे.

ख़ैर फ़िल्मों की बात करें तो साल 2019 का अंत अमिताभ बच्चन को दादा साहेब फाल्के पुरस्कार मिलने से हुआ.

पुरस्कार लेते हुए उन्होंने हल्के-फुल्के अंदाज़ में कहा था कि वो उम्मीद करते हैं कि इस अवॉर्ड का मतलब ये नहीं है कि अब उन्हें रिटायर हो जाना चाहिए. नए साल में उनकी दो बड़ी फ़िल्में आ रही हैं- शूजीत सरकार की फ़ैमिली कॉमेडी 'गुलाबा सिताबो' जो फ़रवरी में आएगी और थ्रिलर फ़िल्म 'चेहरे.'

सिनेमा में तमाम बदलावों के बावजूद आज भी बॉलीवुड में स्टार सिस्टम कायम है और नज़रें बड़े सितारों की फ़िल्मों पर लगी रहती हैं कि ईद किसकी होगी और दीवाली किसकी.

2020 में दीपिका पादुकोण, कंगना रनौत, अक्षय कुमार, अमिताभ बच्चन, सलमान ख़ान जैसे बड़े सितारों की फ़िल्में रिलीज़ होनी हैं.

पारंपरिक तौर पर सलामन की फ़िल्में ईद पर रिलीज़ होती हैं. लेकिन इस बार अक्षय कुमार की 'लक्ष्मी बॉम्ब' और सलमान की 'राधे' एक ही दिन मई में ईद पर रिलीज़ होंगी.

लक्ष्मी बॉम्ब में अक्षय पहली बार एक ट्रांसजेंडर का रोल कर रहे हैं और ये तमिल हॉरर कॉमेडी फ़िल्म कंचना ( 2011) की रीमेक है.

अक्षय उन अभिनेताओं में से हैं जो साल में 3-4 फ़िल्में करने के फ़ॉर्मूले पर काम करते हैं. लक्ष्मी बॉम्ब से पहले मार्च में उनकी एक्शन फ़िल्म सूर्यवंशी आएगी जो फ़िल्म सिंबा को आगे बढ़ाएगी- और कैमिओ में दिखेंगे सिंघम अजय देवगन और सिंबा रणवीर सिंह.

बायोपिक

इमेज कॉपीरइट universal PR

पिछले कुछ समय से बायोपिक बनाने का सिलसिला चल पड़ा है. 2020 में भी ऐसी कई फ़िल्में कतार में हैं.

ऐतिहासिक किरादरों पर फ़िल्में बनाने का क्रम जारी है- जैसे जनवरी में आने वाली तानाजी. छत्रपति शिवाजी के योद्धा रहे तानाजी का किरदार अजय देवगन ने निभाया है जो राजपूत कमांडर उदयभान (सैफ़ अली) से सिंहगढ़ का क़िला जीतते हैं.

साल के आख़िर में दो और बायोपिक फ़िल्में आएगीं- पृथ्वीराज चौहान पर बनी ऐतिहासिक फ़िल्म पृथ्वीराज. यशराज की इस फ़िल्म में होंगे अक्षय कुमार और मिस वर्ल्ड रह चुकीं मानुषी छिल्लर.

शूजीत सरकार सरदार उधम सिंह नाम की बायोपिक अक्तूबर में लेकर आ रहे हैं विकी कौशल के साथ. उधम सिंह को अंग्रेज़ों ने 31 जुलाई, 1940 को फांसी पर चढ़ा दिया था. वैसे 1999 में पंजाबी में उधम सिंह पर फ़िल्म बनी थी जिसमें राज बब्बर, गुरदास मान और जूही चावला ने काम किया था.

भारतीय वायु सेना की महिला पायलट गुंजन सक्सेना की कहानी भी 2020 में फ़िल्मी पर्दे पर देखने को मिलेगी और रोल करेंगी जान्हवी कपूर जो धड़क के बाद अभी नज़र नहीं आई हैं.

वहीं 1971 की भारत-पाक जंग की एक अनोखी घटना पर बन रही है, भुज- द प्राइड ऑफ़ इंडिया.

स्क्वॉड्रन लीडर विजय कार्निक ने तब जंग में तबाह हुए एयरफ़ोर्स बेस को स्थानीय औरतों की मदद से दोबारा बनाया था. ये अपने तरह का अनोखा अभियाना था. फ़िल्म में दिखेंगे अजय देवगन और सोनाक्षी सिन्हा.

खेल-खेल में

इमेज कॉपीरइट Fox Star Studio

2020 में टोक्यो ओलंपिक होना है, इसे इत्तेफ़ाक कहें या कुछ और कि इस साल स्पोर्टस पर कई फ़िल्मों पर काम चल रहा है.

जनवरी में ही दर्शकों से पंगा लेंगी कंनता रनौत जो फ़िल्म में एक ऐसी कबड्डी चैंपियन का रोल कर रही हैं जिसे दुनिया भुला चुकी है और वो घर गृहस्थी में कहीं खो सी गई. माँ बनने और 30 पार होने के बाद क्या वो वापसी कर पाएगी ? ये भारत में कई महिला खिलाड़ियों की भी असल कहानी है.

इमेज कॉपीरइट ranveer singh
Image caption 83 में रणवीर सिंह

खेलों पर बनी फ़िल्मों में सबसे चर्चित है कबीर खान और रणवीर सिंह की फ़िल्म 83 जो भारतीय क्रिकेट टीम की 1983 की ऐतिहासिक जीत पर बनी है. 2019 में गली बॉय का रैपर मुराद यानी रणवीर 2020 में क्रिकेटर कपिल देव बनेगा.

भारतीय खेलों के एक और नायक सईद अब्दुल रहीम पर बन रही है फ़िल्म मैदान. फ़ुटबॉल कोच अब्दुल रहीम को आधुनिक भारतीय फ़ुटबॉल का आर्टिकेटक माना जाता है. लेकिन अब कम ही लोग उनके बारे में जानते हैं. ये रोल करेंगे अजय देवगन.

वहीं राकेश ओमप्रकाश मेहरा तूफ़ान लेकर आएँगे जिसमें फ़रहान अख़्तर बॉक्सर के रोल में हैं.

जहाँ मुख्य किरदार महिला होंगी

साल के शुरू में दीपिका पादुकोण लक्ष्मी नाम की एक लड़की का रोल करेंगी जिन पर असल ज़िदगी में कुछ साल पहले तेज़ाब फेंक दिया गया था. 'छपाक' नाम की ये फ़िल्म बना रही हैं मेघना गुलज़ार.

2020 में कंगना रनौत तमिलनाडु की पूर्व मुख्यमंत्री जयललिता के रोल में दिखेंगी. ये तमिल, तेलुगू और हिंदी में रिलीज़ होगी.

नए साल में विद्या बालन की फ़िल्म शकुंतला देवी भी आ रही है जिन्हें असल ज़िंदगी में ह्यूमन कंप्यूटर कहा जाता था. उन्होंने 1977 में समलैंगिकता पर किताब भी लिखी थी. फ़िल्म को महिला निर्देशक अनु मेनन बना रही हैं. अनुभव सिन्हा की फ़िल्म थप्पड़ में एक बार फिर तापसी पन्नू मुख्य भूमिका में हैं.

कंगना की फ़िल्म पंगा का निर्देशन अश्विन अय्यर तिवारी ने किया है. तो अमिताभ बच्चन की चेहरे रूमी जाफ़री बना रही हैं.

रीमेक और सिक्वल

इमेज कॉपीरइट Pooja Entertainment

2020 में रीमेक और सिक्वल फ़िल्मों की भरमार है- बाग़ी 3, हंगामा 2, भूल भुलैया 2, शुभ मंगल ज़्यादा सावधान, सड़क 2. इसमें से सबसे ज़्यादा नज़रें है सड़क 2 पर.

महेश भट्ट क़रीब 20 साल बाद निर्देशन कर रहे हैं और पहली बार आलिया भट्ट के साथ काम करेंगे. फ़िल्म में पूजा भट्ट और संजय दत्त भी होंगे.

2020 में एक दशक का अंत होगा और नज़रें नई पीढ़ी के पर भी रहेगी. कुली नंबर 1 की रीमेक 2020 में बन रही है वरुण धवन और सारा अली ख़ान के साथ. कार्तिक आयर्न और सारा लव आजकल के सिक्वल में नज़र आएँगे. अन्नया पांडे और इशान खट्टर फ़िल्म खाली पीली में दिखेंगे.

क्या नई पीढ़ी कुछ नया करेगी ? ये कहना तो मुश्किल है. पिछले साल की तरह इस साल भी शाहरुख़ ख़ान की किसी फ़िल्म के रिलीज़ होने के आसार नहीं हैं.

लेकिन ख़ान, कुमार और देवगन से परे बॉलीवुड के नज़रें आयुष्मान खुराना, राजकुमार राव और विकी कौशल जैसे एक्टर्स पर ज़रूर रहेंगी जिन्होंने पिछले कुछ सालों में स्टार और एक्टर का फ़र्क धीरे-धीरे ख़त्म करने की कोशिश की है.

या अनुराग कश्यप, अनुभव सिन्हा, स्वरा भास्कर, ऋचा चढ्ढा और मोहम्मद ज़िशान अय्यूब जैसे कलाकारों पर जो सहमति और असहमतियों के बीच, पर्दे पर और पर्दे से बाहर भी अलग कहानी लिख रहे हैं.

2020 का बॉलीवुड शायद फ़िल्मी ही नहीं राजनीतिक और सामाजिक सरोकारों वाला भी होगा.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार