फिर दिल चुराएँगी ज़ीनत

फ़िल्म यादों की बारात में ज़ीनत अमान पर फ़िल्माया गया गीत 'चुरा लिया है तुमने जो दिल को....' तो आपको याद ही होगा.

Image caption ज़ीनत अमान फ़िल्मों में वापसी कर रही हैं

ये गीत आज भी करोड़ो दिलों की धड़कन बना हुआ है. अब आपको बता दें कि ज़ीनत अमान एक बार फिर फ़िल्मी दुनिया में सक्रिय होने की तैयारी में हैं.

जिस फ़िल्म से उनकी वापसी हो रही है उसका नाम है डू नो वाई न जाने क्यूं.

इस फ़िल्म में ज़ीनत अमान एक बार फिर अपने मशहूर गाने को पर्दे पर फिर से ला रही हैं और वो भी उसी ग्लैमरस लुक में.

जी हां, फ़िल्म का टाइटल थोड़ा हट के ज़रूर है लेकिन इस फ़िल्म में ग्लैमरस लुक में आने के लिए ज़ीनत अमान ने काफ़ी मेहनत की है.

मज़ेदार बात ये है कि अब तक जहाँ हमने उन्हें ग्लैमरस हीरोइन के रूप में देखा है वहीं अब वो ग्लैमरस मम्मी के रूप में दिखेंगी.

****************************************************************

पेरिज़ाद का डर

फ़िल्म जॉगर्स पार्क से अपनी अलग पहचान बनाने वाली पेरिज़ाद जोराबियन एक लंबे समय के बाद रुपहले पर्दे पर वापसी कर रही हैं.

Image caption पेरिज़ाद को उम्मीद है कि उनका काम पसंद किया जाएगा

हाल ही में बीबीसी से बातचीत में पेरिज़ाद ने कहा कि इस वक़्त वो काफ़ी डरी हुई हैं क्योंकि हमेशा लीक से हटकर भूमिकाएँ करती आई हैं.

ऐसे में जब उनकी नई फ़िल्म ये मेरा इंडिया रिलीज़ होने ही वाली है, न जाने दर्शकों और फ़िल्म समीक्षकों की क्या प्रतिक्रिया हो.

वैसे पेरिजाद दूसरी बार माँ बनने की भी तैयारी में हैं. फ़िल्मों के अपने चुनाव के बारे में वो कहती हैं कि वे हमेशा अच्छे सिनेमा से जुड़ना चाहती हैं और यही वजह है कि उन्होंने कम काम किया है.

पेरिजाद, उम्मीद करनी चाहिए कि आप अपनी नई फ़िल्म से दर्शको की कसौटी पर एक बार फिर खरी उतरेंगी.

****************************************************************

शबाना-नंदिता का साथ

कहा जा रहा है कि निर्देशक दीपा मेहता शबाना आज़मी और नंदिता दास को एक बार फिर एक साथ लाने की तैयारी में हैं.

Image caption शबाना और नंदिता को साथ लाने की तैयारी हो रही है

इससे पहले ये दोनों उनकी ही फ़िल्म फ़ायर में एक साथ दिखाई पड़ी थी. हालाँकि ये फ़िल्म काफ़ी विवादों में भी रही थी.

ख़बरों को अगर सही माना जाए तो दीपा मेहता मशहूर उपन्यासकार सलमान रुश्दी के उपन्यास ‘मिडनाइट्स चिल्ड्रन’ पर फ़िल्म बनाने जा रही है.

दीपा मेहता की फ़िल्में हमेशा से ही चर्चा का विषय रही हैं और ऐसे में जबकि उन्होंने शबाना आज़मी और नंदिता दास को एक साथ लाने के लिए कमर कस ही ली है तो देखने वाली बात होगी कि फ़िल्म कैसी बनती है.

****************************************************************

आयशा की आशा

आपको संजय लीला भंसाली की हिट फ़िल्म ब्लैक में बेहद दमदार भूमिका निभाने वाली बाल कलाकार तो याद ही होगी.

Image caption आयशा कपूर की नई फ़िल्म है सिकंदर

जी हाँ, इस बाल कलाकार आयशा कपूर की अभी हाल ही में एक दूसरी फिल्म सिकंदर रिलीज़ हुई है जिसमें उसने एक चुनौतीपूर्ण भूमिका निभाई है.

वैसे आयशा अब बड़ी हो गई हैं और काफ़ी समझदारी की बातें भी करती हैं. आयशा ने बीबीसी को बताया कि पीयूष झा स्क्रिप्ट लेकर उनके घर पांडिचेरी गए थे और उन्होंने वहाँ उन्हें कहानी सुनाई.

ये पूछे जाने पर कि क्या बॉलीवुड में ही करियर बनाने का इरादा है, आयशा का जवाब था- अभी कह नहीं सकती.

उन्हें कविता लिखने, किताबें पढ़ने के अलावा कई शौक हैं. चलिए आयशा, हमें तो आपकी बात करने की अदा सबसे अच्छी लगी.

इसमें जितनी सच्चाई और बेबाकी है वो बरबस किसी का भी ध्यान अपनी तरफ खींच लेगी.

****************************************************************

मदर इंडिया का नया रूप

1957 में बनी क्लासिक फ़िल्म मदर इंडिया का हर एक सीन लोगों के ज़ेहन में आज भी ताज़ा है.

Image caption मदर इंडिया को नए रूप में पेश किया जा रहा है

हाल ही में ख़बर आई है कि ब्रिटेन के एक सांस्कृतिक समूह ने तीन घंटे की इस फ़िल्म को अब 45 मिनट में फिर से बनाने का फ़ैसला किया है.

काला फूल नाम के इस ग्रुप ने इस क्लासिक फ़िल्म की दोबारा स्टाइलिंग करके इसे अब मदर इंडिया ट्वेन्टी फ़र्स्ट सेंचूरी रीमिक्स करने की ठानी है.

45 मिनट की इस फ़िल्म में, मुख्य फ़िल्म के साथ कोई छेड़छाड़ नहीं की जाएगी बल्कि उसके कुछ चुनिंदा दृश्यों को मिलाकर और बैकग्राउंड म्यूज़िक के साथ एक नया लघु रूप दिया जाएगा.

कहा जा रहा है कि इसके पीछे कोशिश यही है कि 52 सालों के बाद भी जिस फ़िल्म की प्रासंगिकता बनी हुई है उसे नए कलेवर के साथ अंतरराष्ट्रीय स्तर पर इसे लोगों तक पहुँचाया जाए.

संबंधित समाचार