'लाइफ़ गुलमोहर स्टाइल'

Image caption नाटक में महिलाओं से जुड़े मुद्दों को उठाया गया है

बीबीसी वर्ल्ड सर्विस ट्रस्ट ने पहली बार भारत के लिए हिंदी में ऐसा रेडियो नाटक तैयार किया है जिसे कई कड़ियों में एफ़एम पर प्रसारित किया जा रहा है.

इसका नाम 'लाइफ़ गुलमोहर स्टाइल' रखा गया है जिसे 156 कड़ियों में ऑल इंडिया रेडियो के एफ़एम चैनल रैनबो पर प्रसारित किया जा रहा है.

सात अक्तूबर को इसकी पहली कड़ी प्रसारित की गई. इसे बुधवार, गुरुवार और शुक्रवार को शाम साढ़े सात से पौने आठ बजे के बीच सुना जा सकता है.

इस नाटक का मुख्य मक़सद लैंगिक समानता और महिलाओं के सशक्तिकरण को बढ़ावा देना है.

ये पाँच नौजवानों की कहानी है जो अपने लक्ष्यों की ओर बढ़ रहे हैं. नाटक में महिलाओं से जुड़े कई मुद्दे उठाए गए हैं जिनमें यौन स्वास्थ्य, हिंसा और बदलते भारत में महिलाओं की भूमिका शामिल है.

इसे बेहद मनोरंजक तरीक़े से श्रोताओं तक पहुँचाने की कोशिश की गई है ताकि वे महिलाओं के प्रति नकारात्मक सोच के ख़िलाफ़ सवाल खड़े कर सकें.

इस नाटक का निर्देशन बीबीसी के पुरस्कृत प्रोड्यूसर परवेज़ आलम ने किया है.

इस नए प्रयास पर परवेज़ आलम का कहना है, "ये दुखद सत्य है कि भारत समेत कई देशों में रेडियो ड्रामा से लोग विमुख हुए हैं. लेकिन लाइफ़ गुलमोहर स्टाइल के लॉंच के साथ हम एफ़एम रेडियो से जुड़ने वाले युवा और नए श्रोताओं तक पहुँचना चाहते हैं."

यह नाटक श्रृंखला बीबीसी वर्ल्ड सर्विस ट्रस्ट के व्यापक शोध का नतीजा है जिसमें ये जानने की कोशिश की गई कि भ्रूण हत्या की समस्या से निपटने में मीडिया का इस्तेमाल कैसे किया जा सकता है.

संबंधित समाचार