मीरा नायर की नई फ़िल्म

  • 30 अक्तूबर 2009
मीरा नायर

भारतीय मूल की मशहूर डायरेक्टर मीरा नायर ने अब एक नई हॉलीवुड फ़िल्म बनाई है जिसका नाम है – अमीलिया.

यह फ़िल्म एक मशहूर अमरीकी महिला विमानचालक के जीवन की कहानी है जिसने 1937 में विमान पर पूरी दुनिया का चक्कर लगाने की कोशिश की लेकिन वह पेसिफ़िक महासागर के उपर कहीं विमान समेत गायब हो गई फिर उसका कोई पता न चला.

इस फ़िल्म - अमीलिया – में हॉलीवुड के सितारे रिचर्ड गियर औऱ हिलरी स्वैंक ने मुख्य भूमिका निभाई है.

हाल ही में इस फ़िल्म का न्यूयॉर्क में प्रीमियर हुआ जिसमें रिचर्ड गियर और मीरा नायर भी शामिल हुए. मैनहैटन के मोमा म्यूज़ियम में इस फ़िल्म को देखने सैकड़ों की तादाद में दर्शक भी पहुंचे हुए थे.

मीरा नायर ने इस मौके पर बोलते हुए कहा कि हिलरी स्वैंक ने अमीलिया का किरदार बहुत अच्छे ढंग से निभाया है.

वह कहती हैं, “हिलरी तो एक आध्यात्मिक कलाकार हैं. वह भीतर से अभिनय करती हैं औऱ पात्र को अपने अंदर समा लेती हैं. वह खुद भी ज़िंदगी के उतार चढ़ाव को पसंद करती हैं इसीलिए उन्हे अमीलिया के किरदार को अपनाने में मुश्किल नहीं आई.”

मीरा नायर की इस फ़िल्म को उनकी हॉलीवुड के किसी बैनर तले बनने वाली सबसे महंगी और बड़ी फ़िल्म माना जा रहा है. मीरा नायर कहती हैं कि उनको अपनी सारी फ़िल्मों में से अमीलिया को बनाना सबसे ज़्यादा मुश्किल लगा.

इस फ़िल्म को बनाने में की गई खास शूटिंग के बारे में मीरा नायर कहती हैं, “मैं नहीं चाहती थी कि अमीलिया के जहाज़ों औऱ उनकी उड़ानों की कंप्यूटर ग्राफ़िक्स बना कर फ़िल्म में प्रयोग हों, इसलिए मैने फ़िल्म में सब कुछ असली इस्तेमाल किया. हमने पुराने विमान ढूंढे और उनको समुद्र, जंगलों और रेगिस्तानों के उपर से उड़ाकर फ़िल्म के लिए शॉट्स लिए.”

'मुश्किल फ़िल्म'

रिचर्ड गियर ने भी फ़िल्म को एक बहुत ही अहम प्रॉजेक्ट बताया और उसकी शूटिंग के दौरान मीरा नायर के निर्देशन औऱ उनकी महारत की तारीफ़ की.

रिचर्ड गियर का कहना था, “यह एक बहुत ही मुश्किल प्रॉजेक्ट था, लेकिन मीरा को पता था कि उन्हे कलाकारों से कैसे काम लेना है. मीरा को स्टाईल और सुंदरता का बेहद अच्छा अंदाज़ा है. आपको हर सीन में मीरा की इस महारत की झलक दिखेगी.”

हॉलीवुड की मशहूर अभिनेत्री हिलरी स्वांक दो बार ऑस्कर के लिए चुनी जा चुकी हैं. उनका कहना है कि अमिलिया के किरदार को निभाना उनके लिए बहुत मुश्किल था.

हिलरी स्वांक कहती हैं,“मेरे लिए अमिलिया का किरदार निभाना एक बहुत बड़ी चुनौती थी, वह इसलिए क्यूंकि लोगों को अमीलिया के बारे में काफ़ी कुछ पता है. औऱ इसलिए किरदार को निभाने की स्वतंत्रता ख़त्म हो जाती है और हमें उस किरदार को उसी तरह निभाना पड़ता है जैसे उसे सबने देखा है.”

मीरा नायर ने बताया कि उन्होंने कोशिश की है कि फ़िल्म में अमिलिया के ही कथन को ज़्यादातर डायलॉग की तरह प्रयोग किया जाए.

इस फ़िल्म के लिए भारत समेत कनाडा, दक्षिण अफ़्रीका औऱ यूरोप के देशो में भी शूटिंग की गई है. इसमें 1920 से 1937 तक का ज़माना दिखाया गया है औऱ 1937 में अमीलिया की विश्व का चक्कर लगाने वाली आखरी उड़ान पर ज़्यादा ज़ोर रहा.

भारत के कोलकाता शहर के डम डम हवाई अडडे का एक छोटा सा ही सीन फ़िल्म में शामिल किया गया है. दिसंबर में अमीलिया भारत में रिलीज़ की जायेगी.

इससे पहले मीरा नायर ने वैनिटी फ़ेयर, द नेमसेक, मिसिसिपी मसाला, सलाम बॉम्बे और मानसून वैडिंग जैसी फ़िल्में बनाई हैं.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार