लता ने कहा, 40 साल और खेलें सचिन

  • 14 नवंबर 2009
लता मंगेशकर
Image caption लता मंगेशकर चाहतीं हैं कि सचिन बस खेलते ही रहें

भारत की सबसे सुरीली आवाज़, देश के सबसे बलवान बल्ले के मालिक की बड़ी फ़ैन हैं.

लता मंगेशकर और सचिन तेंदुलकर ने अपने जीवन जिन ऊंचाईयों को छुआ है वो करोड़ो भारतीयों के लिए एक मिसाल है. लेकिन ये दोनो दिग्गज एक दूसरे के भारी प्रशंसक हैं.

सचिन तेंदुलकर 15 नंवबर को टेस्ट क्रिकेट में बीस साल पूरे कर रहे हैं. इसी सिलसिले में बीबीसी ने सचिन तेंदुलकर के बारे में लता मंगेशकर से बात की.

लता मंगेशकर को सुनने के लिए यहां क्लिक करें

अच्छे इंसान

मंगेशकर कहती हैं कि पिछले बीस बरसों में हांलाकि वो सचिन से बमुश्किल पांच या छह बार मिलीं होंगी लेकिन ये तो दुनिया मानती है कि सचिन बेहद बढ़िया खिलाड़ी हैं.

लता मंगेशकर ने बीबीसी को बताया, “ मुझे ये कहने की ज़रुरत नहीं कि वो बहुत अच्छा खेलते हैं लेकिन वो इनसान के रुप में मुझे बहुत अच्छे लगते हैं. कभी मैंने उन्हें किसी के बारे में कोई ख़राब बात करते नहीं सुना.”

मंगेशकर को सचिन तेंदुलकर अर्धशतक और शतक बनाने पर आसमान की तरफ़ देखने की आदत भी बेहद पसंद है.

वो कहती हैं, “वो अपने पिता और भगवान को याद करते हैं, उनकी ये विनम्रता मुझे बहुत अच्छी लगती है. ”

तो लता मंगेशकर को सचिन तेंदुलकर की सबसे ख़ास बात क्या लगती है?

मंगेशकर ने बीबीसी को ख़ास बातचीत में बताया, “ उन्हें अपने क्रिकेट से बहुत लगाव है. सचिन क्रिकेट को वैसे ही मानते हैं जैसे हम लोग भगवान की पूजा करते हैं, मुझे ये इसलिए अच्छा लगता है, क्योंकि मैं भी गानों को अपनी ज़िंदगी समझती हूं. सचिन भी ऐसा ही मानते हैं. मैंने उन्हें कभी पूछा नहीं लेकिन मुझे लगता है कि उनकी क्रिकेट के अलावा किसी चीज़ दिलदस्पी नहीं है.”

सचिन तेंदुलकर को टेस्ट क्रिकेट खेलते हुए 15 नवंबर को बीस साल हो जायेंगे. लता मंगेशकर कहती हैं उनकी शुभकामनाएं हमेशा सचिन के साथ हैं और वो चाहेंगी कि वो और 40 साल क्रिकेट खेलें.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार