फ़रहान, करीना, चित्रांगदा एकसाथ

चित्रांगदा सिंह
Image caption चित्रांगदा सिंह की फ़िल्म ध्रुव में फ़रहान अख़्तर के साथ नज़र आएंगी.

फ़िल्म ‘हज़ारों ख़्वाहिशें ऐसी’ के बाद निर्देशक सुधीर मिश्रा और अभिनेत्री चित्रांगदा सिंह एक बार फिर साथ आ रहे हैं फ़िल्म ‘टू डेज़, टू नाइट्स एंड ए मॉर्निंग’ मे.

इसमें उनके सह अभिनेता हैं इरफ़ान ख़ान.

इसके अलावा उनकी एक और फ़िल्म बन रही है 'ध्रुव'. इस फ़िल्म में उनके साथ नज़र आएँगे फ़रहान अख़्तर और करीना कपूर.

हाल ही में चित्रांगदा सिंह ने अपने करियर और पसंद-नापसंद के बारे में बीबीसी से बातचीत की.

आने वाली फ़िल्में

चित्रांगदा सिंह की अगली फ़िल्म ‘टू डेज़, टू नाइट्स एंड ए मॉर्निंग’ है जिसमें उनके सह अभिनेता इरफ़ान ख़ान हैं. फ़िल्म और अपने रोल के बारे में चित्रांगदा कहती हैं, “ये एक थ्रिलर और प्रेम कहानी है. मेरे किरदार का नाम प्रीति है जो संगीतकार है. लेकिन वो कोई बड़ी मेगा स्टार नहीं है बल्कि एक संघर्षरत संगीतकार है.”

इसके अलावा चित्रांगदा की आने वाली फ़िल्मों में शामिल है ध्रुव. इस फ़िल्म में उनके साथ फ़रहान अख़्तर और करीना कपूर भी हैं. चित्रांगदा ने कहा, “मैं उम्मीद करती हूं कि ये फ़िल्म अगले साल बनना शुरु हो जाएगी. इस कहानी दो औरतों के बारे में है जो एक ही आदमी से प्यार करती हैं. इसे आप एक क्लासिक त्रिकोणीय प्रेमकथा कह सकते हैं. इसकी पृष्ठभूमि राजनीतिक है.”

चित्रांगदा ने 2003 में ‘हज़ारों ख़्वाहिशे ऐसी’ से हिंदी फ़िल्मों में कदम रखा था और इस फ़िल्म के लिए उनके अभिनय की काफ़ी सराहना भी हुई थी. लेकिन पिछले छह सालों में उन्होंने सिर्फ़ तीन फ़िल्में ही की हैं. 2005 में आई फ़िल्म ‘कल : यस्टर्डे एंड टुमोरो’ और फिर इस साल वो नज़र आईं संजय सूरी और शर्मन जोशी के साथ ‘सॉरी भाई’ में.

इतनी कम फ़िल्में करने के बावजूद चित्रांगदा कहती हैं, “इसका एक कारण आर्थिक मंदी भी है जिसका असर फ़िल्म उद्योग पर भी पड़ा. लेकिन अच्छी बात ये है कि इस दौरान भी लोग मेरे साथ काम करना चाहते थे और मुझे अच्छी स्क्रिप्ट्स पढ़ने को मिल रहीं थीं.” चित्रांगदा को उम्मीद है कि 2010 में उनकी कम से कम तीन फ़िल्में रीलीज़ होंगी.

अन्य शौक

फ़िल्मों के अलावा चित्रांगदा सिंह को पढ़ने का शौक है लेकिन वो फ़िक्शन बहुत ज़्यादा नहीं पढ़ती.

चित्रांगदा कहती हैं, “सिर्फ़ डैन ब्राउन ही ऐसे लेखक हैं जिनकी हर किताब मैंने पढ़ी है क्योंकि उनकी किताबें तथ्यों पर आधारित होती हैं.”

डैन ब्राउन ने डा विंची कोड और डिजीटल फ़्रोट्रेस जैसी लोकप्रिय किताबें लिखी हैं.

इसके अलावा हाल ही में चित्रांगदा ने अपने पति, गोल्फ़र ज्योति रंधावा, और भाई के साथ स्काई डाइविंग की. और अब वो स्कूबा डाइविंग के लिए लक्षद्वीप जाना चाहती हैं.

संबंधित समाचार