टोरंटो में होगा 2011 का आइफ़ा समारोह

आइफ़ा का लोगो
Image caption आइफ़ा पहली बार किसी उत्तर अमेरिकी महाद्वीप के शहर में आयोजित होगा.

बॉलीवुड का सबसे बड़े पुरस्कार समारोहों में शामिल आइफ़ा समारोह साल 2011 में कनाडा के टोरंटो शहर में आयोजित किया जाएगा.

बुधवार शाम मुंबई में आयोजित एक रंगारंग कार्यक्रम में इसकी घोषणा की गई. समारोह का मेज़बान पहली बार उत्तर अमरिकी महाद्वीप का शहर होगा.

हालांकि 2010 में होने वाले आइफ़ा समारोह का आयोजन स्थल तय होना अभी बाकी है.

हस्तियों का जमावड़ा

ओंतारियो के प्रीमीयर डाल्टन मैकगुंती की उपस्थिति में समारोह के आयोजकों ने संवाददाता सम्मेलन में कहा कि आइफ़ा समारोह 16 से 19 जून तक 2011 आयोजित होगा.

बॉलीवुड का ऑस्कर माने जाने वाले इन पुरस्कारों में फ़िल्मी दुनिया की कई नामचीन हस्तियां हिस्सा लेंगी. इनमें बच्चन परिवार के अलावा ऋतिक रोशन,विवेक ओबरॉय,सेलिना जेटली, दिया मिर्ज़ा जैसे लोग शामिल हैं.

साल 2011 में टोरंटो को आइफ़ा समारोह के लिए चुने जाने पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए अभिनेता विवेक ओबरॉय ने कहा," टोरंटो शुरु से ही मेरी पसंदीदा जगह रही है. मुझे खुशी है कि इस समारोह के ज़रिए हम वहाँ के अपने प्रसंशकों से भी रुबरु होंगे."

उन्होंने कहा,''बॉलीवुड की पहुँच जिस तरह से पूरी दुनिया में हो रही है वो क़ाबिले तारीफ़ है.मैं बस इतना ही कहना चाहूंगा कि बॉलीवुड टोरंटो में भी अपना देसी तड़का लगाने में पूरी तरह से क़ामयाब होगा.''

इस अवसर पर सेलिना जेटली ने कहा, ''आइफ़ा से मेरा काफ़ी भावनात्मक रिश्ता है. मुझे अच्छी तरह याद है कि किस तरह मैं अपनी पहली फ़िल्म के रिलीज़ के बाद मैं जोहानिसबर्ग में पहली बार इस समारोह का हिस्सा बनी थी.''

उन्होंने बताया, ''उस समय मैं काफ़ी नर्वस हो रही थी कि क्योंकि इसमें इंडस्ट्री के सभी बड़े सितारे शिरक़त करते हैं.मुझे खुशी है कि साल 2011 का आइफ़ा टोरंटो में होने वाला है क्योंकि इतने बड़े समारोह के लिए इससे खूबसूरत जगह हो ही नहीं सकती.''

बॉलीवुड के प्रशंसक

उधर, ओंतारियो के प्रीमियर डाल्टन मैकगुंती ने इस अवसर पर ख़ुशी जताते हुए कहा, ''मैं काफ़ी खुश हूँ. जिस तरह से बॉलीवुड इंडस्ट्री ने पूरी दुनिया में अपना एक ख़ास मुक़ाम हासिल किया है वह किसी से छिपा नहीं है. ऐसे में आइफ़ा जैसे बड़े समारोह का टोरंटो में होना हमारे लिए कई तरह से फ़ायदेमंद है.''

Image caption टोरंटो में बॉलीवुड के फ़िल्मों के प्रशंसक बड़ी संख्या में रहते हैं.

उन्होंने कहा, ''ओंतरियो में भारतीय फ़िल्मों के काफ़ी प्रशंसक हैं और ऐसे में भारतीय सिनेमा के कलाकारों को बिल्कुल भी नयापन नहीं महसूस नहीं होगा और अपने घर जैसा ही महसूस होगा.''

आइफ़ा पुरस्कारों के दौरान हिंदी फ़िल्म जगत से करीब पांच सौ लोगों के टोरंटो पहुंचने की उम्मीद है. इस दौरान उन्हें देखने चालीस हज़ार से ज्यादा दर्शक जुटेंगे जिसका सीधा फ़ायदा ओंतारियो की अर्थव्यवस्था को मिलने वाला है.

इससे पहले आइफ़ा का आयोजन दुबई, एम्सटर्डम, जोहांसबर्ग, बैंकाक और मकाउ में हो चुका है.

संबंधित समाचार