मनोज कुमार की 'आख़िरी गोली'

Image caption मनोज कुमार वर्षों बाद एक बार फिर सक्रिय हुए हैं

भारतीय सिनेमा में देशभक्ति की कुछ सबसे बड़ी फ़िल्में बनाने वाले मनोज कुमार अब स्वंत्रतता सेनानी चंद्रशेखर आज़ाद पर फ़िल्म बनाने जा रहे हैं. फ़िलहाल वो इसकी पटकथा लिखने में व्यस्त हैं.

मनोज कुमार जिस अगली फ़िल्म का निर्देशन करने जा रहे हैं उसको उन्होंने नाम दिया है – आख़िरी गोली, द लास्ट बुलेट. बतौर निर्देशक उन्होंने अपनी अंतिम फ़िल्म ‘जय हिंद’ 1999 में बनाई थी.

उन्होंने बीबीसी को बताया कि आख़िरी गोली में प्रमुख किरदार चंद्रशेखर आज़ाद का होगा.

मनोज कुमार ने कहा, '' मैंने हाल ही में कहीं पढ़ा है कि कुछ पाठ्य पुस्तकों में चंद्रशेखर आज़ाद को आतंकवादी कहा गया है, मैं इस बात से बेहद दुखी हुआ.''

मनोज कुमार ने कहा कि वो अपनी फ़िल्म के लिए नए कलाकारों को ही लेंगे क्योंकि आजकल तो बड़े स्टार्स करोड़ों रुपए ले रहे हैं.

शास्त्री पर फ़िल्म

वो पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की जीवन आधारित एक फ़िल्म की पटकथा भी लिख रहे हैं.

मनोज कुमार ने बीबीसी को बताया कि लाल बहादुर शास्त्री के पुत्र अनिल और सुनील शास्त्री चाहते हैं कि वो ये कहानी लिखें.

मनोज कुमार ने कहा,'' मैंने आजतक आधिकारिक तौर किसी के लिए फ़िल्म नहीं लिखी. मुझे ये बात अच्छी लगी की निर्माता एक महान प्रधानमंत्री पर फ़िल्म बना रहे हैं. दूसरा शास्त्री परिवार से मेरा बिल्कुल पारिवारिक संबंध है.''

मनोज कुमार ने कुछ बड़ी और सुपरहिट फ़िल्में बनाईं हैं और उनमें ख़ुद अभिनय भी किया था.

उपकार, पूरब और पश्चिम और रोटी कपड़ा और मकान में उन्होंने निर्देशक और अभिनेता दोनों की भूमिका निभाई थी.

दरअसल 1967 में आई ‘उपकार’ लाल बहादुर शास्त्री के प्रसिद्ध नारे ‘जय जवान जय किसान’ से प्रेरित फ़िल्म थी.

संबंधित समाचार