बॉलीवुड का वैलेंटाइन डे

हेमा मालिनी
Image caption हेमा मालिनी कहती हैं कि धर्मेंद्र से उनकी शादी होना किस्मत की बात थी

फ़िल्मों में तो बड़ी-बड़ी प्रेम कहानियां रची जाती हैं लेकिन इन बॉलीवुड की हस्तियों की असल प्रेम कहानियां भी कुछ कम फ़िल्मी नहीं हैं.

वैलेंटाइन डे के मौके पर बीबीसी ने बात की ऐसी ही कुछ शख़्सियतों से और जाना उनकी प्रेम कहानी के बारे में.

बॉलीवुड की ड्रीमगर्ल हेमा मालिनी मानती हैं कि ज़िंदगी में जो कुछ भी होता है किस्मत की बात है.

धर्मेंद्र के साथ अपने रिश्ते के बारे में उन्होंने कहा "ये सब किस्मत की बातें होती हैं. मेरा धर्मेंद्रजी के साथ रिश्ता बनना, फिर शादी और फिर बच्चे होना सब किस्मत का खेल है. मेरी किस्मत में ये लिखा हुआ था तो ऐसा हुआ."

वैसे हेमा मालिनी ने धर्मेंद्र से शादी करने से पहले कई और लोगों के बारे में भी सोचा था.

उन्होंने बताया "धरमजी के अलावा मैंने कई लोगों के बारे में सोचने की कोशिश की लेकिन धरमजी ने मुझे किसी और के बारे में सोचने ही नहीं दिया. उन्होंने मुझे इतना प्यार दिया कि मैं किसी और के बारे में सोच ही नहीं पाई."

हेमा मालिनी ने बताया कि वो धर्मेंद्र को चाहती तो थीं लेकिन कभी इज़हार नहीं कर पाईं.

वो कहती हैं "धरमजी इतने ख़ूबसूरत थे कि कोई भी लड़की उनपर फ़िदा हो जाए. मुझे भी धरमजी पसंद थे लेकिन मैं एक शर्मीली लड़की थी और कभी बोल नहीं पाई. मैंने कभी नहीं सोचा था कि मेरी धरमजी से शादी होगी क्यूंकि मैं जानती थी कि वो शादीशुदा हैं. पर किस्मत की बात है की हमारी शादी हो गई."

बॉलीवुड की सबसे ख़ूबसूरत अभिनेत्रियों में से एक सोनाली बेंद्रे कहती हैं प्यार के लिए साल में एक दिन तो बहुत कम है और एक नहीं बल्कि कई वैलेंटाइन डे होने चाहिएं.

सोनाली के पति और फ़िल्मकर गोल्डी बहल ने बताया कि एक फ़िल्म की शूटिंग के दौरान उन्होंने सोनाली को सबसे पहली बार देखा था और वो उन पर फ़िदा हो गए थे.

उनका कहना था, "मैं सोनाली के पास पहले गया और फिर कई मुलाकातों के बाद मैंने अपने प्यार का इज़हार किया. सोनाली ने हां करने मैं बहुत वक़्त लगाया."

सोनाली और गोल्डी की शादी को कई साल हो गए हैं और जब उनसे पूछा गया कि शादी को सफल बनाने के लिए क्या करना चाहिए तो दोनों ने कहा, "इस सवाल का जवाब देना तो अभी बहुत जल्दी होगा. हम तो अब भी एक दूसरे को जानने की कोशिश कर रहे हैं. हम आज भी दोस्त जैसे हैं और कोशिश करते हैं कि अपने छोटे से बेटे के साथ भी दोस्त की तरह ही रहें."

बिपाशा का प्यार

अभिनेत्री बिपाशा बसुका कहना है कि प्यार के बिना जिंदगी अधूरी है. प्यार न सिर्फ़ अपने प्रेमी बल्कि अपने माता-पिता और दोस्तों के प्रति भी हो सकता है.

हमारे देश में ऐसे कई अवसर हैं जिन्हें हम जश्न से मनाते हैं और वैलेंटाइन डे भी उनमें से एक है. इस मौक़े पर हर जगह प्यार की बात खुले में होती है जिससे एक ख़ुशी सी मिलती है.

ये पूछे जाने पर कि उनके बॉय फ्रेंड जॉन अब्राहम ने उनके लिए अब तक सबसे ज़्यादा रोमांटिक चीज़ क्या की है तो बिपाशा ने बताया, "मैं एक दिन शूटिंग से थकीहारी घर लौटी तो मैंने देखा की जॉन ने पूरे घर को लाल गुलाब की पंखुड़ियों से सजा दिया था. मुझे ये बहुत ही रोमांटिक लगा लेकिन उसके बाद जब मुझे घर की सफाई करनी पड़ी तो मुझे अपनी नानी याद आ गयी."

Image caption बिपाशा बासु कहती है कि प्यार के बिना ज़िन्दगी अधूरी है

जॉन और बिपाशा के रिश्ते को लेकर कई ख़बरें आ चुकी है.

इस पर जॉन अब्राहम का कहना है, "हम दोनों एक दूसरे के साथ बहुत खुश हैं. हम दोनों ही किसी भी मुद्दे पर मज़बूत राय रखते हैं जिसकी वजह से हमारे बीच कभी-कभी लड़ाइयां भी होती हैं लेकिन हम उन्हें सुलझा भी लेते हैं."

वैलेंटाइन डे के अवसर पर प्यार को परिभाषित एक शायर से अच्छा कौन कर सकता है.

जाने-माने शायर, गीतकार और फ़िल्म लेखक जावेद अख़्तर कहते हैं, "प्यार का मतलब किसी को हासिल करना या फिर उसकी आरज़ू करना नहीं है. प्यार होता कि आप एक दूसरे की इज्ज़त करें, एक दूसरे के सपनों और एक दूसरे की अच्छाइयों और बुराइयों से भी मोहब्बत करें."

जावेद अख्तर की पत्नी और शायर कैफ़ी आज़मी की बेटी शबाना आज़मी के लिए प्यार का मतलब उनके पिता के लिखे इस शेर में छिपा है, "प्यार का जश्न नई तरह मनाना होगा, ग़म किसी दिल में सही ग़म को मिटाना होगा."

संबंधित समाचार