प्रियंका-कंगना को मिला राष्ट्रीय पुरस्कार

  • 19 मार्च 2010
Image caption राष्ट्रपति के हाथों 'फ़ैशन' फ़िल्म के लिए पुरस्कृत हुई हैं प्रियंका

साल 2008 के लिए शुक्रवार को राष्ट्रीय पुरस्कार दिए गए.दिल्ली में हुए इस समारोह में हिंदी सिनेमा छाया रहा.

दिल्ली में हुए समारोह में पुरस्कार राष्ट्रपति प्रतिभा देवीसिंह पाटिल ने दिए. प्रतिष्ठित दादा साहेब फालके पुरस्कार वरिष्ठ छायाकार वीके मूर्ति को दिया गया है.

सर्वश्रेष्ठ फ़िल्म का पुरस्कार बांग्ला फ़िल्म अंतहीन को दिया गया जबकि बाला को सर्वश्रेष्ठ निर्देशक के पुरस्कार से नवाज़ा गया.

फ़िल्म 'फ़ैशन' के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का पुरस्कार प्रियंका चोपड़ा को मिला. इस फ़िल्म में प्रियंका चोपड़ा ने एक ऐसी मॉडल का किरदार निभाया है जो एक छोटे शहर से मुंबई पहुंचती है और उसका जीवन कई नाटकीय मोड़ लेता है.

सर्वश्रेष्ठ सह-अभिनेत्री का पुरस्कार फ़िल्म 'फ़ैशन' के लिए ही कंगना राणावत को मिला. कंगना ने फ़िल्म में एक ऐसी मॉडल की भूमिका निभाई है जो तनाव से ग्रस्त है और ड्रग्स का सेवन करती है.

मराठी फ़िल्म जोगवा के लिए उपेंद्र लिमाए सर्वश्रेष्ठ अभिनेता के पुरस्कार से सम्मानित हुए.

पुरस्कार

सर्वश्रेष्ठ सह अभिनेता का पुरस्कार अर्जुन रामपाल की झोली में गया. उन्हें ये ईनाम फ़िल्म रॉक ऑन के लिए दिया गया जिसमें उन्होंने एक रॉक बैंड के सदस्य की भूमिका निभाई है.

किसी निर्देशक की पहली फ़िल्म के लिए इंदिरा गांधी अवार्ड ए वेडनसडे को दिया गया.

निर्देशक दिबाकर बैनर्जी की फ़िल्म 'ओए लकी लकी ओए' को सर्वश्रेष्ठ लोकप्रिय फ़िल्म का पुरस्कार मिला.

मास्टर शम्स को फ़िल्म 'थैंक्स मां' के लिए सर्वश्रेष्ठ बाल कलाकार का ईनाम दिया गया.

हरिहरन सर्वश्रेष्ठ गायक के सम्मान से नवाज़ा गए तो बेस्ट गायिका का अवॉर्ड श्रेया घोषाल को मिला.

क्षेत्रीय फ़िल्मों में हरीशचंद्राची फैक्ट्री सर्वश्रेष्ठ मराठी फ़िल्म बनी तो रॉक ऑन को बेस्ट हिंदी फ़िल्म का पुरस्कार दिया गया.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार