कहानी में आए क्या क्या ट्विस्ट?

  • 7 अप्रैल 2010

सानिया मिर्ज़ा और शोएब मलिक के परिवारवालों ने मार्च के अंत में जब ये ऐलान किया था कि दोनों शादी करने जा रहे हैं तो सब लोग हैरत में आ गए. हैदराबाद में होने वाली इस शादी को लेकर लोगों में काफ़ी उत्सुकता थी.

लेकिन कुछ दिनों के अंदर ही पूरे मामले ने एक नाटकीय मोड़ ले लिया.

आइए नज़र डालते हैं घटनाक्रम पर

शादी का ऐलान- 29 मार्च को सानिया के परिवारवालों ने इस बात की पुष्टि कर दी कि सानिया की शादी पाकिस्तानी खिलाड़ी शोएब मलिक से अप्रैल में होगी

भारत के लिए खेलती रहेंगी- सानिया ने कहा कि वे शादी से बहुत ख़ुश हैं और शादी के बाद भी भारत के लिए खेलती रहेंगी.

शोएब और आयशा?- सानिया-शोएब की प्रेम कहानी के बीच एक अप्रैल आते-आते पूरे पाकिस्तानी और भारतीय मीडिया में ये ख़बरे आने लगीं कि शोएब की कथित तौर पर पहले से ही शादी हो चुकी है और लड़की हैदराबाद की ही रहने वाली आयशा सिद्दीक़ी हैं.

शोएब पर बरसा सिद्दीक़ी परिवार- दो अप्रैल को सिद्दीक़ी परिवार ने खुल कर मीडिया से बात की और शोएब मलिक पर कई तरह के आरोप लगाए. आयशा सिद्दीक़ी की माँ ने कहा कि पहले शोएब उनकी बेटी को तलाक़ दें और फिर सानिया से शादी करे.फ़रीसा सिद्दीक़ी ने कहा कि शोएब कई बार उनके घर आकर रह चुके हैं.

अचानक हैदराबाद पहुँचे शोएब- तीन अप्रैल को शोएब अचानक सानिया के घर हैदराबाद में देखे गए.

शोएब ने कहा निकाह नहीं हुआ–चार अप्रैल को शोएब मीडिया के सामने आए और एक प्रेस रिलीज़ जारी की. उन्होंने कहा कि कोई निकाह हुआ ही नहीं था क्योंकि सिद्दीक़ी परिवार ने उन्हें धोखा देने के लिए दबाव डालकर वो निकाह करवाया था.

एफ़आईआर दर्ज- चार अप्रैल का अंत होते-होते शोएब का मामला पुलिस थाने जा पहुँचा. आयशा के पिता ने उनके ख़िलाफ़ महिला उत्पीड़न, डराने धमकाने और धोखाधड़ी का मामला दर्ज कराया.

शोएब से पूछताछ- पाँच अप्रैल को आंध्र प्रदेश ने आयशा सिद्दीकी की शिकायत पर शोएब से पूछताछ की. वहीं सिद्दीक़ी परिवार के नज़दीकी डॉक्टर शम्स बाबर के मुताबिक आयशा गर्भवती भी हुई थीं.

सानिया-शोएब सामने आए- पूछताछ के बाद पांच अप्रैल को सानिया और शोएब ने एक साथ प्रेस कॉंफ्रेंस की और कहा कि दोनों साथ-साथ है. शोएब ने आयशा पर सवाल उठाया कि वो लड़की कहाँ हैं, वो कैमरे के पीछे से क्यों बोल रही हैं, वे दुनिया के सामने क्यों नहीं आ रही. उन्होंने कहा कि जिस लड़की से उन्हें तलाक़ देने की सलाह दी जा रही है, उसे वे आपा (बड़ी बहन) कहते थे और वे आपा को कैसे तलाक़ दे सकते हैं.

शोएब ने तलाक़ दिया- सात अप्रैल आते-आते मामला पलट गया. आयशा की माँ ने बताया कि समुदाय के नेताओं की मध्यस्थता के बाद शोएब ने आयशा को औपचारिक रूप से तलाक़ दे दिया है. लेकिन पूरे घटनाक्रम के बारे में ज़्यादा जानकारी नहीं दी गई.

संबंधित समाचार