बीबीसी टेक वन में -'एक बार की बात है...'

  • 29 जुलाई 2010
Image caption कंगना रनावत

बीबीसी टेक वन के इस अंक में बात होंगी इस हफ़ते की रिलीज़ ‘वंस अपॉन अ टाइम इन मुंबई ‘ की . इमरान हाशमी बताएँगे कितना मुश्किल रहा लम्बी मूंछें उगा कर शूटिंग करना और कंगना रनावत को मिला इस फिल्म में उनका ड्रीम रोल.

बीबीसी टेक वन की फ़िल्म क्रिटिक नम्रता जोशी से जानेंगे उनकी राय मिलन लूथरिया की इस फ़िल्म के बारे में. साथ ही नम्रता बतायेंगी क्यों मिली प्रियदर्शन की खट्टा मीठा को औडिएंस की खट्टी प्रतिक्रया.

इस हफ़ते रिलीज़ हो रही है फ़िल्म 'वंस अपॉन अ टाइम इन मुंबई ' .बीबीसी टेक वन में बात होगी फ़िल्म की कास्ट और निर्देशक मिलन लुथरिया से फ़िल्म के 70 के दशक के लुक और कहानी के बारे में. ये कहानी है उस समय के मुम्बई की जब अंडरवर्ल्ड का नया नया जन्म ही हुआ था. कई लोगों का मानना है की ये फ़िल्म उस समय के अंडरवर्ल्ड सरगना दाऊद इब्राहीम और हाजी मस्तान पर आधारित है. जानेंगे क्या कहते हैं इस बारे में खुद फ़िल्म के निर्देशक मिलन लूथरिया.

पिछले हफ़ते रिलीज़ हुई प्रियदर्शन निर्देशित फ़िल्म 'खट्टा मीठा ' दर्शकों को हसाने में नाकामयाब रही. नम्रता जोशी मानती हैं की इसके पीछे वजह है प्रियदर्शन के पुराने फार्मुले जो इस बार असर नही दिखा सके. जानेंगे दर्शकों की भी राय इस फ़िल्म पर.

टिंसेल टॉक :

बिपाशा बासु की मंगनी की अंगूठी कैसी होनी चाहिए, और सोनम कपूर को एक्स्पोस करना क्यूँ पसंद नहीं, ये जानेंगे बीबीसी टेक वन के इस अंक में उनसे ही.साथ ही करन जौहर की नई फ़िल्म 'वी आर फैमिली ' के बारे में बात होगी एक्टर अर्जुन रामपाल से.

ख़ास बात:

संजय दत्त के जन्मदिन पर उनके बारे में बात होंगी बहन प्रिया दत्त से.

जाने माने एक्टर और निर्माता निर्देशक देव आनंद ने हाल ही में अपनी फ़िल्म चार्जशीट की पहली झलक दिखाई. देव आनद से होंगी इस फ़िल्म से जुडी ख़ास बातें.

संबंधित समाचार