'मैं अभिनेता नहीं बनना चाहता था'

  • 29 जुलाई 2010
रितेश देशमुख
Image caption रितेश देशमुख की आने वाली फ़िल्म 'डबल धमाल' है

'हे बेबी', 'धमाल' और 'हाउसफ़ुल' जैसी कामयाब फ़िल्मों में काम कर चुके अभिनेता रितेश देशमुख कहते हैं कि वो अभिनेता बनना ही नहीं चाहते थे.

बीबीसी से एक ख़ास बातचीत में रितेश ने कहा, "मैंने अपनी पहली फ़िल्म बिना किसी तैयारी के की. सच तो ये है कि उस वक़्त मुझे ये भी नहीं पता था कि कैमरे का सामना कैसे करना है. मैं फ़िल्मों में आना ही नहीं चाहता था."

रितेश से जब बीबीसी ने पूछा कि एक गै़र फ़िल्मी परिवार से आए व्यक्ति को फ़िल्मों में जगह बनाने में कितनी मुश्किल पेश आती है, तो रितेश ने कहा कि किसी बाहरी आदमी को ये जानकारी नहीं होती कि फ़िल्मी दुनिया में चीज़ें कैसे काम करेंगीं.

उन्होंने कहा, "अगर आपके माता-पिता फ़िल्मों में काम करते हों, तो आप बहुत कम उम्र में ही फ़िल्मों के बारे में जानने लगते हैं. लेकिन आख़िरी फ़ैसला तो जनता का ही होता है. अगर आपमें योग्यता नहीं है तो आप आगे नहीं बढ़ सकते."

रितेश ने अब तक अपने करियर में ज़्यादातर हास्य भूमिकाएं ही की हैं.

इसकी वजह पूछने पर वो कहते हैं कि ये बहुत ज़रूरी है कि फ़िल्म निर्माता आपको अलग-अलग भूमिकाएं दें और आप उन भूमिकाओं के साथ न्याय करें.

रितेश के मुताबिक़ जब कोई फ़िल्म कामयाब हो जाती है, तो फ़िल्मकार आपको उसी तरह की भूमिकाएं देने लगते हैं.

रितेश की आने वाली फ़िल्में हैं 'दोस्ताना 2' और 'डबल धमाल'.

संबंधित समाचार