बीबीसी टेक वन में फ़िल्मी गपशप

हर बार की ही तरह इस बार भी बीबीसी टेक वन के इस अंक में शामिल है हफ़ते भर की फ़िल्मी गपशप और कुछ मनोरंजक बातें.

सबसे पहले बात एडवांस बुकिंग यानी इस हफ़ते रिलीज़ हो रही करन जौहर की फ़िल्म वी आर फैमिली की. फ़िल्म का निर्देशन किया है सिद्धार्थ आनंद ने जिनकी ये पहली फ़िल्म है.

सिद्धार्थ ने बीबीसी को बताया कि इस फ़िल्म को बनाने से पहले जो पहला सवाल था वो ये कि काजोल को इस फ़िल्म के लिए कैसे राज़ी किया जाए.

सिद्धार्थ के अनुसार उन्हें काजोल को राज़ी करने के लिए काफ़ी पापड़ बेलने पड़े. हालाँकि फ़िल्म हॉलीवुड फ़िल्म स्टेपमॉम पर आधारित है पर फ़िल्म में कई जगहों पर काफ़ी कुछ अलग देखने को मिलेगा.

बॉक्स ऑफिस रिपोर्ट :

पिछले हफ़ते रिलीज़ हुई निर्देशक नागेश कुकुनूर की फ़िल्म आशाएं अभिनेता जॉन अब्राहम और नागेश दोनों की ही आशाओं पर खरी नहीं उतर पायी. न तो फ़िल्म दर्शकों को कुछ ख़ास पसंद आई न ही बीबीसी टेक वन आलोचक नम्रता जोशी को.

कुछ ठीक ठाक सा ही असर रहा निर्देशक सुशील राजपाल की फ़िल्म अंतरद्वंद का भी. हालाँकि नम्रता मानती हैं कि फ़िल्म में एक नये विषय को छूने की कोशिश की गयी है पर कुछ जगहों पर ऐसे झोल हैं जिनके कारण अंतर्द्वंद कुछ ख़ास प्रभावित नहीं कर पायी.

टिंसेल टॉक:

इस हफ़ते की ख़ास खबर रही निर्देशक राजकुमार हिरानी की हिंदी फ़िल्म 3 इडियट्स की तमिल और तेलुगु में रीमेक की बात. राजकुमार हिरानी ने बताया कि ये रीमेक वो खुद नहीं बना रहे हैं बल्कि इसे फ़िल्म निर्देशक मणि शंकर बनायेंगे . फ़िल्म के तमिल और तेलुगु भाषाओँ में बनने के लिए उन्होंने अधिकार बेच दिए हैं और जल्द ही कास्टिंग भी हो जायेगी.

बॉलीवुड के अगर कुछ सबसे खुशहाल परिवारों की बात करें तो शाहरुख़ खा़न का नाम कैसे भूला जा सकता है . और अपनी इस खुशहाली का सबसे बड़ा राज़ शाहरुख़ अपने उस फै़सले को बताते हैं जब उन्होंने गौरी खा़न को अपनी पत्नी बनाने का फैसला किया था.

जहाँ एक ओर हैं ऐसे खा़न जिनके बेमिसाल प्यार की चर्चा दुनिया करती है वहीं दूसरी ओर हैं सलमान खा़न जिन्होंने पिछले दिनों अभिनेत्री कटरीना कैफ से अलग होने की बात मीडिया के सामने आम कर दी. दूसरी ओर कटरीना ने भी मीडिया के सामने इस बात पर हामी भरी कि वो सिंगल हैं.

टेलिविज़न पर प्रसारित कॉमेडी फैमिली ड्रामा खिचड़ी के चाहने वालों के लिए दिलचस्प बात ये है कि अब खिचड़ी पर फिल्म भी बनने जा रही हैं . टी वी कार्यक्रम में एक मुख्य किरदार निभा रहे अभिनेता जे डी मजेठिया ने बताया कि इस फिल्म में पात्र तो वही रहेंगे पर कहानी अलग होगी. फिल्म की कहानी में टी वी कार्यक्रम खिचड़ी से कुछ भी मिलता जुलता नहीं होगा.

कुछ ख़ास:

70 और 80 के दशक में अपनी रोमांटिक छवि के लिए जाने जाने वाले बॉलीवुड अभिनेता ऋषि कपूर ने हीरो के तौर पर फ़िल्मों में कदम रखा 1973 में फ़िल्म बॉबी के साथ और रातों रात लोगों को दीवाना बना डाला. और आज भी ऋषि कपूर का फ़िल्मी सफ़र जारी है. इस हफ़्ते ऋषि कपूर अपने जीवन के 58 वर्ष पूरे कर रहे हैं.

ऋषि कपूर के चाहने वाले उनके अभिनय के साथ साथ उनके बेमिसाल प्यार की भी मिसाल देते हैं.

सह अभिनेत्री नीतू सिंह के प्यार में गिरफ़्तार ऋषि कपूर ने 1980 में उन्हें अपनी दुल्हन बना लिया.

बीबीसी ने ऋषि कपूर के बारे में बात की उनके परिवार के सदस्यों से.

ऋषि कपूर की पत्नी नीतू कपूर ने बीबीसी को बताया कि ऋषि न केवल एक अच्छे पति साबित हुए हैं बल्कि वो एक ज़बर्दस्त पिता भी हैं. उन्होंने बच्चों पर हमेशा पूरा ध्यान दिया. साथ ही उन्होंने अपने माता पिता का भी हमेशा ख़्याल रखा है. उनके लिए उनका परिवार बहुत मायने रखता है.

ऋषि कपूर कि बेटी रिधिमा कपूर जो कि दिल्ली में रहती हैं उन्होंने बीबीसी को बताया कि किस तरह ऋषि हमेशा काम पर से 7 बजे घर वापस पहुँच जाया करते थे ताकि वो बच्चों (रणबीर और रिधिमा) के साथ अपना समय बिता सकें.

संबंधित समाचार