'वंस अपॉन....' सत्तर से आगे या पहले?

वंस अपॉन ए टाइम मुम्बई
Image caption फ़िल्म 'वंस अपॉन ए टाइम इन मुम्बई' का दूसरा भाग बनाने की तैयारी हो रही है.

हिट फ़िल्म ‘वंस अपॉन ए टाइम इन मुम्बई’ की टीम अब उसका दूसरा भाग बनाने की तैयारी कर रही है.

लेकिन फ़िल्म सत्तर के दशक से आगे बढ़ेगी या फिर उससे पहले युग की होगी, यानि फ़िल्म का सीक्वेल बनेगा या प्रीक्वेल, ये अभी तय नहीं है.

फ़िल्म की प्रोड्यूसर एकता कपूर कहती हैं, “हम दो कहानियों पर एक साथ काम कर रहे हैं. ये फ़िल्म दो लोगों की कहानी होगी. सिर्फ़ गैंगस्टर ड्रामा नहीं होगा और न ही सिर्फ़ मार-धाड़ होगी. कहानी मानवीय संघर्ष के बारे में होगी. जैसे ही दोंनो में से एक कहानी को चुन लेंगे, तब कास्ट पर काम करेंगे.”

‘वंस अपॉन ए टाइम इन मुम्बई’ सत्तर के दशक में मुम्बई अंडरवर्ल्ड पर आधारित है. फ़िल्म में अजय देवगन, इमरान हाशमी, कंगना रनॉत और प्राची देसाई ने मुख्य भूमिकाएं निभाई हैं.

फ़िल्म के निर्देशक मिलन लूथरिया कहते हैं, “कास्ट इस बात पर निर्भर करेगी कि हम प्रीक्वेल बना रहे हैं या फिर सीक्वेल. हो सकता है कि फ़िल्म पचास-साठ के दशक की हो या फिर अस्सी-नब्बे के दशक की भी हो सकती है. अगर सीक्वेल बनाएंगे तो ज़ाहिर है कि अजय देवगन नहीं होंगे. हो सकता है कि हम उन्हें किसी और रोल में ले आएं लेकिन फ़िलहाल कास्ट के बारे में कहना बहुत मुश्किल है.”

फ़िल्म के सौ दिन पूरे होने पर एकता कपूर, मिलन लूथरिया और इमरान हाशमी ने पत्रकारों से बातचीत की.

दूसरे भाग में अपने रोल के बारे में इमरान हाशमी कहते हैं, “निर्देशक और लेखक को जिस किरदार के लिए भी मुझे सही समझेंगे, मैं वही करुंगा. हां, प्रर्दशन की बात करें तो हर ऐक्टर को हमेशा लगता है कि वो बेहतर कर सकता था. जब भी फ़िल्म का दूसरा भाग बनेगा, मैं भी चाहूंगा कि मैं पहले भाग से बेहतर एक्टिंग करुं.”

लेकिन फ़िल्म के सीक्वेल बनाने के पीछे सोच क्या थी? मिलन लूथरिया कहते हैं, “अगर लोगों में इस फ़िल्म के सीक्वेल को लेकर उत्सुकता और उत्साह है, मेरे लिए इससे बड़ी कोई बात नहीं हो सकती. हम इस बारे में सोच रहे हैं लेकिन फ़िल्म की कहानी, बजट, कास्ट आदि के बारे में अभी कोई फ़ैसला नहीं लिया है. हां, जिन बातों को लोगों ने इस फ़िल्म में पसंद किया, वही बातें एक अलग तरीके से फिर दर्शकों को दिखानी हैं.

संबंधित समाचार