पूरी हुई माधुरी के सामने नाचने की तमन्ना

  • 8 दिसंबर 2010
रियेल्टी शो झलक दिखला जा के जज मलाइका अरोड़ा ख़ान, रेमो डिसूज़ा और माधुरी दीक्षित
Image caption डांस रियेल्टी शो 'झलक दिखला जा' के चौथे सीज़न में मलाइका अरोड़ा ख़ान, रेमो डिसूज़ा और माधुरी दीक्षित जज हैं.

ऐक्टर और जानी-मानी टीवी हस्ती शेखर सुमन ने अपने फ़िल्मी करियर की शुरुआत में तय किया था कि मौका मिलने पर वो माधुरी दीक्षित के सामने ज़रूर नाचेंगे.

शेखर की ये तमन्ना कई साल बाद अब जाकर पूरी हुई है. वो डांस रियेल्टी शो ‘झलक दिखला जा’ के चौथे संस्करण में हिस्सा ले रहे हैं. इस शो के तीन जजों में से एक माधुरी दीक्षित हैं.

ये बहुत कम लोग ही जानते हैं कि शेखर सुमन ने फ़िल्मों में पहला डांस माधुरी दीक्षित के साथ किया था.

इस बारे में शेखर कहते हैं, “मेरी दूसरी फ़िल्म ‘मानव हत्या’ माधुरी दीक्षित के साथ थी जिसमें मैंने उनके साथ एक डांस किया था. पूरे डांस के दौरान मैं उन्हें ही देखता रहता था. आज भी जब वो फ़िल्म आती है तो मैं टीवी बंद कर देता हूं क्योंकि उसमें मैं बेहद बेतुका और बेताला दिखता हूं. उस समय मैंने तय किया था कि अगर मौका मिला तो माधुरी दीक्षित के सामने ज़रूर डांस करुंगा. तो इस कार्यक्रम से वो ख़्वाहिश पूरी हो गई.”

‘झलक दिखला जा’ के चौथे सीज़न में शेखर सुमन सहित टीवी, फ़िल्म और खेल जगत की बारह जानी-मानी हस्तियां हिस्सा ले रही हैं. इनमें से कुछ को हाल ही में जनता के सामने पेश किया गया.

इन्हीं में से एक हैं अर्जुन पुरुस्कार से सम्मानित बॉक्सर अखिल कुमार.

अखिल मानते हैं कि सिर्फ़ क्रिकेटर ही नहीं बल्कि और खिलाड़ी भी डांस कर सकते हैं.

साथ ही वो कहते हैं, “डांस करने में मुझे बहुत मज़ा आ रहा है. इससे मुझे फ़िटनेस बेहतर करने का एक और तरीका मिला है. मुझे केवल अभिनय करने में दिक्कत आ रही है क्योंकि मैं खिलाड़ी हूं ऐक्टर नहीं.”

कुछ साल पहले फ़िल्म दम के एक आइटम नम्बर से मशहूर हुई याना गुप्ता की शो में हिस्सा लेने के बाद एक ग़लतफ़हमी दूर हो गई है.

याना कहती हैं, “मुझे लगता था कि मैं अच्छी डांसर हूं लेकिन अब नए-नए प्रकार के नृत्य सीखते समय महसूस हो रहा है कि जितना मुझे लगता था मैं उतनी बढ़िया डांसर भी नहीं हूं. इसलिए मुक़ाबला कड़ा होगा.”

इस बार के प्रतियोगियों में टीवी कलाकार सबसे ज़्यादा हैं. इनमें रागिनी खन्ना, सुशांत सिंह राजपूत, मियांग चांग, और कृष्णा अभिषेक भी शामिल हैं. लेकिन बारहंवे प्रतियोगी का नाम अभी घोषित नहीं हुआ है.

Image caption बॉक्सर अखिल कुमार अब नृत्य में हाथ आज़मा रहे हैं. वो झलक दिखला जा में हिस्सा ले रहे हैं.

एक और प्रतियोगी, टीवी और फ़िल्म कलाकार रेनुका शाहाने, मानती हैं कि फ़िल्मों की अपेक्षा रियेल्टी शो में नृत्य करना ज़्यादा मुश्किल होता है.

रेनुका ने कहा, “इस शो के लिए बहुत तैयारी और कड़ी मेहनत करनी पड़ी है क्योंकि मैं नर्तक नहीं हूं. फ़िल्मों में डांस करना आसान होता है क्योंकि वहां रिहर्सल भी होती है और आपको पूरा नाच एक बार में नहीं करना पड़ता. यहां एक बार में पूरा डांस करना होता है इसलिए ग़ल्ती की कोई गुंजाइश नहीं होती.”

ये शो बीबीसी के कार्यक्रम डांसिंग विद द स्टार्स पर आधारित है. इसमें माधुरी दीक्षित के अलावा मलाइका अरोड़ा ख़ान और कोरियोग्राफ़र रेमो डिसूज़ा भी जज हैं. कार्यक्रम में हर स्टेज पर और आखिर में विजेता के चुनाव में दर्शकों की वोटिंग बहुत अहम होती है.

गायिका और पूर्व वीजे अनुष्का मन्चन्दा मानती हैं कि वो एक बहुत जाना-पहचाना चेहरा नहीं हैं जिसका असर उनके लिए वोटिंग पर पड़ सकता है.

वो कहती हैं, “मैंने इस बारे में सोचा था लेकिन अगर बहुत ज़्यादा सोचूंगी तो कुछ नहीं कर पाऊंगी. इसलिए मैं चाहती हूं कि हर बार मैं अपनी परफ़ोर्मेंस से दर्शकों का मनोरंजन करूं जिससे वो हमें बार-बार देखना चाहेंगे.”

‘झलक दिखला जा’ का चौथा संस्करण बारह दिसम्बर से प्रसारित होगा.

संबंधित समाचार