'बिग' झटका

अमिताभ बच्चन
Image caption अमिताभ बच्चन ने ट्विटर पर कहा है कि वो इस साल आईफ़ा में शामिल नहीं होंगे.

आइफ़ा के ब्रैंड अम्बैसेडर अमिताभ बच्चन इस साल भी आइफ़ा में हिस्सा नहीं लेंगे.

अमिताभ बच्च्न ने सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट ट्विटर पर कहा है कि वो इस साल टोरंटो में होने वाले इंटरनेशनल इंडियन फ़िल्म अकेडमी, आइफ़ा, अवॉर्ड में शामिल नहीं होंगे.

उन्होंने कहा, “मैं इस साल टोरंटो नहीं जा रहा....ये निर्णय मेरा नहीं है बल्कि आयोजकों का कहना है कि उन्हें मेरी सेवाओं की ज़रूरत नहीं है. श्रीलंका में भी यही बात थी.”

कोलंबो, श्रीलंका में 2010 में आयोजित आइफ़ा समारोह में अमिताभ सहित पूरा बच्चन परिवार नहीं पहुंचा था. हालांकि इस बारे में उन्होंने कोई स्पष्ट वजह नहीं बताई थी.

तमिलों ने किया था बहिष्कार

श्रीलंका की राजधानी कोलंबो में आइफ़ा आयोजित करने के विरोध में तमिल फ़िल्म उद्योग ने इसका बहिष्कार किया था.

आइफ़ा अवॉर्ड्स साल 2000 में शुरु हुए थे और तब से 2009 तक अमिताभ बच्चन इससे जुड़े रहे. लेकिन 2010 में कोलंबो में उनके नामौजूदगी में सलमान ख़ान आइफ़ा का चेहरा बने. तभी से चर्चा शुरु हो गई थी कि आगे भी सलमान ही आइफ़ा का प्रतिनिधित्व करेंगे. लेकिन इस बारे में कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई थी.

इस बारे में आइफ़ा का आयोजन करने वाली कंपनी, विज़क्राफ़्ट इंटरनेशनल एंटरटेन्मेंट प्राइवेट लिमिटेड और आइफ़ा ने सोमवार को प्रेस रिलीज़ जारी करके कहा है कि अमिताभ बच्चन की जगह कोई और ब्रैंड अम्बैसेडर नहीं बनेगा.

प्रेस रिलीज़ में कहा गया है, “कुछ अपरिहार्य कारणों से ब्रैंड अम्बैसेडर, अमिताभ बच्चन, पिछले साल आइफ़ा की घोषणा करने के बाद श्रीलंका में कार्यक्रम में शामिल नहीं हो पाए थे. इसके बाद आइफ़ा ने ब्रैंड अम्बैसेडर बनाने का इरादा ही छोड़ दिया था. विज़क्राफ़्ट और आइफ़ा के श्री बच्चन के साथ गहरे संबंध रहे हैं, इसलिए हम किसी और को उनकी जगह नहीं ला रहे. हर साल पूरा बच्चन परिवार आइफ़ा का अंतरंग हिस्सा रहा है और हमने इस साल भी उनके शामिल होने के बारे में उनसे बात की थी. श्री बच्चन के इस साल आइफ़ा में शामिल न होने का कारण वही सबसे बेहतर जानते हैं लेकिन हम इस बारे में उनसे बात करते रहेंगे.”

संबंधित समाचार