'ट्रेंड बदलने का मज़ा ही कुछ और है'

अभिषेक बच्चन, शाहाना गोस्वामी, सारा जेन इमेज कॉपीरइट bbc
Image caption अभिषेक बच्चन, शाहाना गोस्वामी और सारा जेन.

अभिषेक बच्चन की फ़िल्म 'गेम' एक अप्रैल को रिलीज़ हो रही है. विश्व कप क्रिकेट का फ़ाइनल दो अप्रैल को है और उसके कुछ दिनों बाद आईपीएल-4 शुरु होगा.

लेकिन अभिषेक बच्चन को नहीं लगता कि इससे उनकी फ़िल्म पर विपरीत प्रभाव पड़ेगा.

इससे पहले के सालों में जो फ़िल्में आईपीएल के दौरान रिलीज़ हुईं वो बॉक्स ऑफ़िस पर कुछ ख़ास नहीं कर पाईं.

तो क्या 'गेम' भी क्रिकेट की भेंट नहीं चढ़ जाएगी.

फ़िल्म के बारे में बात करते अभिषेक से जब मीडिया ने ये सवाल पूछा तो वो बोले, "हो सकता है पहले आईपीएल के दौरान फ़िल्में फ्लॉप होने का ट्रेंड रहा हो. लेकिन भैया ट्रेंड बदलने का मज़ा ही कुछ और है. मेरा ये भी मानना है कि फ़िल्म में अगर दम हो तो उसे कभी भी रिलीज़ कर लो, वो दर्शकों को ज़रूर पसंद आएगी."

'गेम' को फ़रहान अख़्तर और रितेश सिधवानी मिलकर बना रहे हैं जो इससे पहले 'दिल चाहता है', 'लक्ष्य' और 'डॉन' जैसी फ़िल्में बना चुके हैं.

अभिषेक के मुताबिक़ फ़रहान और रितेश उनके पक्के दोस्त हैं इस वजह से वो इस फ़िल्म को लेकर कुछ ज़्यादा ही जोश में हैं.

'गेम' के निर्देशक अभिनव देव हैं जो आमिर ख़ान प्रोडक्शंस की 'डेल्ही बैली' भी बना रहे हैं. अभिनव ने इससे पहले काफ़ी विज्ञापन फ़िल्में भी बनाई हैं.

Image caption फ़िल्म 'गेम' में कंगना रानावत की भी मुख्य भूमिका है.

हाल ही में 'पटियाला हाऊस' और 'सात ख़ून माफ़' जैसी बड़े बजट की फ़िल्में बॉक्स ऑफ़िस पर ढेर हो गईं तो ऐसे में 'गेम' जैसी बड़े बजट की फ़िल्म से क्या उम्मीदें की जा सकती हैं.

ये पूछने पर अभिषेक बोले, "अक्सर ऐसा होता है कि कोई एक-दो फ़िल्में फ़्लॉप हो जाती हैं तो लोग कहने लगते हैं कि फ़िल्म इंडस्ट्री बुरे दौर से गुज़र रही है. कोई एक फ़िल्म चल निकलती है तो लोग कहना शुरु कर देते हैं कि गाड़ी पटरी पर लौट आई. ये कहना ग़लत है. आप क्वालिटी प्रोडक्ट बनाओ और फिर देखो मज़ा."

'गेम' में अभिषेक के अलावा कंगना रानावत, जिमी शेरगिल, सारा जेन, शाहाना गोस्वामी, बोमन ईरानी और अनुपम खेर की भी मुख्य भूमिका है.

संबंधित समाचार