जापान की मदद के लिए आगे आए रजनीकांत

  • 23 मार्च 2011
रजनीकांत इमेज कॉपीरइट bbc
Image caption रजनीकांत जल्द ही जापान जाकर भूकंप और सूनामी पीड़ितों से मिलेंगे.

दक्षिण भारतीय फ़िल्मों के सुपरस्टार रजनीकांत हाल ही में जापान में हुई त्रासदी से बेहद दुखी हैं और पीड़ितों की मदद करना चाहते हैं.

जापान में आए भूकंप और सूनामी में मारे गए लोगों को श्रद्धांजलि देने के लिए चेन्नई में बुलाई गई एक सभा में रजनीकांत ने कहा, "जापानी लोग मुश्किलों और तकलीफ़ों से ज़ोरदार तरीके से उबरना बखूबी जानते हैं. लेकिन आख़िर कितनी बार उन्हें ऐसा करना होगा. मैं प्रार्थना करता हूं कि भविष्य में ऐसी त्रासदी मेहनती जापान वासियों पर कहर ना बरपाए."

उन्होंने ये भी कहा कि वो जल्द ही जापान जाकर वहां के भूकंप और सूनामी प्रभावित लोगों से मिलेंगे. उन्होंने ये भी कहा कि पीड़ितों की मदद के लिए उनसे जो बन पड़ेगा वो करेंगे.

रजनीकांत ने इस दौरान भूकंप के बाद जापान के लोगों की ईमानदारी बयां करती कई घटनाओं का ज़िक्र किया.

उन्होंने कहा, "मैंने सुना कि वहां पर लोग एक शॉपिंग मॉल में खरीदारी करने के बाद बिल चुकाने के लिए लाइन में खड़े थे. जैसे ही भूकंप आया लोग वहां से भाग गए. लेकिन जब सब शांत हो गया तो लोग वापस आए, दोबारा लाइन में खड़े हुए और पैसे चुकाए."

हम आपको बता दें कि रजनीकांत जापान में भी ख़ासे लोकप्रिय हैं. 1996 में उनकी फ़िल्म 'मुत्थु' वहां रिलीज़ हुई जो ज़बरदस्त हिट साबित हुई. उसके बाद से वहां उनके ढेरों प्रशंसक बन गए.

संबंधित समाचार