बरसों बाद भी ओसामा के किरदार की बात होगी

फ़िल्म तेरे बिन लादेन का पोस्टर

ओसामा बिन लादेन अब विश्व इतिहास का हिस्सा बन चुके हैं. फ़िल्म तेरे बिन लादेन में ओसामा का किरदार निभाने वाले अभिनेता प्रद्युम्न सिंह मानते हैं कि ये किरदार भी अब फ़िल्म इतिहास का हिस्सा बन चुका है.

बीबीसी के साथ एक ख़ास बातचीत में प्रद्युम्न ने कहा, “पहली ही फ़िल्म में ऐसा रोल बहुत कम लोगों को मिलता है. अगर सोचूं तो दिमाग़ में सिर्फ़ अमजद ख़ान का नाम आता है जिनको शोले में गब्बर का रोल मिला था. गब्बर का रोल फ़िल्म इतिहास का हिस्सा बन गया है. जब भी अमजद ख़ान की बात होगी, गब्बर की बात होगी. ये (ओसामा) रोल भी उसी कैटेगरी का किरदार है. मैं नहीं जानता कि मेरा काम अमजद ख़ान जैसे बढ़िया था या नहीं लेकिन आज से सौ-पचास साल बाद भी इंडस्ट्री में इस किरदार के बारे में ज़रूर बात होगी.”

ओसामा का हमशक्ल

तेरे बिन लादेन में प्रद्युम्न सिंह ने नूरा नाम के व्यक्ति का रोल निभाया था जिसे ओसामा बिन लादेन का हमशक्ल बना कर पेश किया जाता है.

प्रद्युम्न कहते हैं कि वो शायद अकेले ऐसे व्यक्ति हैं जिन्होंने पर्दे पर ओसामा का किरदार निभाया है. लेकिन उन्हें इस बारे में कभी डर नहीं लगा.

उन्होंने कहा, “शूटिंग के दौरान हंसी-मज़ाक में दिन कट जाता था. असली टेंशन शुरु हुई जब फ़िल्म रिलीज़ होने वाली थी. यू ट्यूब पर पहला वीडियो आने के बाद लोगों ने बोला कि ये ओसामा का वीडियो कहां से मिला, तो लगा कि कुछ उलटा ही न हो जाए. लेकिन भगवान का शुक्र है कि कुछ नहीं हुआ क्योंकि पूरी फ़िल्म में हमने ओसामा का मज़ाक नहीं उड़ाया. हमने इस किरदार को किसी नकारात्मक रूप में नहीं बल्कि मज़ेदार अंदाज़ में दिखाया है, इसलिए धीरे-धीरे डर ख़त्म हो गया.”

प्रद्युम्न की ही तरह तेरे बिन लादेन के निर्देशक अभिषेक शर्मा को भी फ़िल्म बनाते समय कोई डर नहीं था.

अभिषेक ने बीबीसी को बताया, “मेरी फ़िल्म किसी ख़ास व्यक्ति के बारे में नहीं थी, वो आतंक के ख़िलाफ़ जंग पर अमरीकी पॉलिसी पर व्यंग्य है. इसलिए बनाते समय कोई डर नहीं था.”

संबंधित समाचार