मोम की करीना कपूर

करीना कपूर
Image caption (बाएं से) करीना कपूर अपने मोम के पुतले के साथ.

हिंदी फ़िल्म अभिनेत्री करीना कपूर के मोम के पुतले का लंदन के ब्लैकपूल, मैडम तुसॉद म्यूज़ियम में 27 अक्टूबर को अनावरण हुआ.

इसे बनाने में चार महीने लगे और इसकी लागत आई तक़रीबन एक करोड़ 20 लाख रुपए.

इस मौके पर करीना अपनी मां बबिता के साथ पहुंची. करीना के ढेरों प्रशंसक म्यूज़ियम के बाहर उनका इंतज़ार कर रहे थे और जैसे ही वो वहां पहुंची चारों तरफ़ से करीना-करीना की आवाज़ें आने लगीं.

करीना अपने पुतले को देखकर काफ़ी ख़ुश नज़र आईं और उन्होंने इसके साथ खड़े होकर अपनी तस्वीरें भी खिंचाई. उन्होंने अपने इस पुतले को 'अद्भुत' करार दिया.

बीबीसी से अपनी ख़ुशी बयां करते हुए करीना कपूर ने कहा, "पहले तो ये सोचना कि आपका पुतला बनाया जाएगा काफ़ी डरावना ख़्याल लगा. लेकिन अब मैं अपने आपको काफ़ी ख़ुशकिस्मत मानती हूं कि मेरे जैसी एक और करीना कपूर है इस दुनिया में. ये मेरे लिए बड़े सम्मान की बात है."

करीना का ये पुतला जनवरी 2012 तक ब्लैकपूल में रहेगा और फिर उसके बाद दुनिया के अलग-अलग शहरों में इसे घुमाया जाएगा.

करीना से पहले अमिताभ बच्चन, शाहरुख़ ख़ान, ऐश्वर्या राय बच्चन और ऋतिक रोशन जैसे हिंदी फ़िल्म कलाकारों के मोम के पुतले मैडम तुसॉद म्यूज़ियम में लगाए जा चुके हैं.

हालांकि करीना कपूर ने कहा कि वो चाहती हैं कि उनका पुतला म्यूज़ियम में हॉलीवुड अभिनेता जॉनी डेप के पुतले के बगल में लगाया जाए क्योंकि वो जॉनी की ज़बरदस्त प्रशंसक हैं.

26 अक्टूबर को ही करीना कपूर और शाहरुख़ ख़ान की मुख्य भूमिका वाली रा.वन पूरी दुनिया में रिलीज़ हुई. लंदन में इसका प्रीमियर भी रखा गया. फ़िल्म ने पहले ही दिन क़रीब 19 करोड़ रुपए का व्यवसाय किया.

संबंधित समाचार