इम्तियाज़ ने किया नर्गिस का बचाव

  • 17 नवंबर 2011
इमेज कॉपीरइट pr

फ़िल्म के रिलीज़ होने के बाद उसके लिए बॉक्स ऑफ़िस का प्रदर्शन ही सफलता का पैमाना माना जाता है.

फ़िल्म रॉकस्टार के निर्देशक इम्तियाज़ अली ने भी फ़िल्म पर लोगों की राय जानने के लिए उनसे चर्चा की.

दिल्ली में आयोजित इस चर्चा के दौरान फ़िल्म की नायिका नर्गिस फ़खरी के अभिनय पर दर्शकों ने सवाल उठाए.

इम्तियाज़ में नर्गिस के अभिनय का बचाव करते हुए कहा, “मैं ये नहीं कहूँगा कि फ़िल्म में सबकुछ ठीक हुआ है. ये फ़िल्म जनार्दन के नज़रिए से बनाई गई है. दर्शकों को नर्गिस को देखने का मौका ही नहीं मिलता. आप नर्गिस को देखते हैं और वो ग़ायब हो जाती है और बाद में फिर वापस आ जाती है, तो इसलिए आपका पूरा ध्यान रणबीर पर रहता है.”

इम्तियाज़ नहीं मानते कि नर्गिस फ़खरी को नायिका लेना कोई ग़लत कदम नहीं था.

इम्तियाज़ ये भी कहते है कि फ़िल्म की टीम को भी नर्गिस को स्वीकार करने में थोड़ा वक्त लगा था. दर्शक भी कुछ समय के बाद नर्गिस को स्वीकार करने लगेंगे.

रॉकस्टार फ़िल्म को भले ही फ़िल्म समीक्षकों से मिलीजुली प्रतिक्रिया मिली हो लेकिन निर्देशक इम्तियाज़ का दावा है कि इस फ़िल्म को लोगों ने अपना बना लिया है.

इस फ़िल्म के प्रदर्शन के बारे में इम्तियाज़ कहते हैं “मुझे लगता है कि कुछ लोगों ने इस फ़िल्म को अपना बना लिया है. अनुराग कश्यप ने तो यहाँ तक कहा कि तुम्हें खु़द नहीं पता कि ये फ़िल्म क्या है, मुझे पता है. मेरी फ़िल्मों में से ये पहली फ़िल्म है जिसे लोगों ने बैक टू बैक देखा है.”

हालांकि इम्तियाज़ ये भी कहते हैं कि ज़रूरी नहीं है कि जिसने भी ये फ़िल्म देखी हो उन्हें पसंद आई ही हो,उन्हें ख़ामियां भी नज़र आ रही है लेकिन लोगों ने इस फ़िल्म को स्वीकार किया है.

संबंधित समाचार