'तेज' बिलकुल मौलिक फिल्म है: प्रियदर्शन

फिल्म तेज
Image caption प्रियदर्शन निर्देशित तेज 27 अप्रैल को रिलीज हुई.

हिंदी फिल्मों का दक्षिण भारतीय भाषाओं में रीमेक या दक्षिण भारतीय फिल्मों का हिंदी में रीमेक अब बेहद आम बात है.

बल्कि पुरानी फिल्मों के भी काफी रीमेक बन रहे हैं. ऐसे में निर्देशक प्रियदर्शन इस बात से खुश हैं कि उनकी शुक्रवार को रिलीज हुई फिल्म तेज बिलकुल असल और मौलिक फिल्म है.

बीबीसी से खास बात करते हुए प्रियदर्शन कहते हैं, "जब मैं रीमेक फिल्में बनाता था तो लोग बड़े सवाल करते थे. अब हर कोई रीमेक बना रहा है. ओरिजिनल फिल्में तो कोई बना ही नहीं रहा है. मुझे खुशी है कि मेरी फिल्म तेज किसी फिल्म का रीमेक नहीं है."

खुद प्रियदर्शन निर्देशित खट्टा-मीठा, दे दनादन और भूल भुलैया जैसी उनकी हिंदी फिल्में मलयालम और तमिल फिल्मों की रीमेक थीं.

प्रियदर्शन निर्देशित तेज उनकी पहली थ्रिलर हिंदी फिल्म है, जिसमें अनिल कपूर, अजय देवगन, मोहनलाल और समीरा रेड्डी की मुख्य भूमिका है.

वो कहते हैं, "ये मेरी अब तक की सबसे बेहतरीन तरीके से शूट की गई फिल्म है. इसमें आपको पता नहीं चलेगा कि अगले पल क्या होने वाला है."

हाल ही में प्रियदर्शन को पद्मश्री पुरस्कार से नवाजा गया. इस पर प्रतिक्रिया देते हुए वो कहते हैं, "30 साल और 83 फिल्में बनाने का मुझे इनाम मिला. मैंने हर भाषा की और हर तरह की फिल्म बनाई है. मुझे लगता है कि मैं इस सम्मान का हकदार हूं."

प्रियदर्शन ने अब तक ज़्यादार हास्य फिल्में बनाई हैं. तेज से पहले उन्हें आक्रोश नाम की एक ऐक्शन फिल्म बनाई थी, लेकिन वो कामयाब नहीं हो पाई थी.

संबंधित समाचार