यशराज बैनर की 'दादागिरी' से अजय देवगन परेशान

सन ऑफ सरदार

बॉक्स ऑफिस पर दीवाली के वक्त दो बड़ी फिल्मों का रिलीज़ होना कोई नई बात नहीं है.

इस बार शाहरुख खान की यश चोपड़ा निर्मित 'जब तक है जान' और अजय देवगन की 'सन ऑफ सरदार' एक साथ रिलीज़ हो रही हैं. लेकिन इस बार बात थोड़ी सी अलग है.

अजय देवगन ने आरोप लगाया है कि उनके पास अपनी फिल्म को रिलीज़ करने के लिए सिनेमाघर ही नहीं हैं क्योंकि ज़्यादातर सिनेमाघरों पर यशराज ने पहले से ही बुकिंग कर रखी है.

हालांकि यशराज बैनर ने इन आरोपों का खंडन किया और कहा कि दोनों फिल्मों के लिए पर्याप्त सिनेमाघर उपलब्ध हैं. इस पर अजय देवगन बड़े सख्त लहज़े में कहते हैं, ''क्या हम बेवकूफ़ हैं. हां हैं न सिनेमाघर हैं .पर दक्षिण भारत में हैं. दक्षिण भारत में लोग 'सन ऑफ़ सरदार' देखेंगे या फिर अपनी दक्षिण भारतीय फिल्में?.''

अजय आगे कहते हैं, ''मुंबई के दादर में सात सिनेमाघर हैं. जिनमें से छ: पर यशराज की फिल्म लगने वाली है. हमारे लिए बचा एक सिनेमाघर. अब आप ही बताएं कि क्या ये बात गलत नहीं है.''

नहीं झेल सकता नुकसान

अजय के मुताबिक वो दिवंगत यश चोपड़ा की बहुत इज्ज़त करते थे और अब भी उनके मन में वही भावना है लेकिन वो 70 से 80 करोड़ का नुकसान नहीं झेल सकते.

Image caption अजय देवगन ने आरोप लगाया है कि यशराज बैनर अपने 'रुतबे' का इस्तेमाल करके सारे ज़्यादातर सिनेमाहॉल्स पर कब्ज़ा कर रहा है.

मीडिया से मुखातिब अजय कहते हैं, ''यश जी की फिल्म का काफी ज़ोर शोर से प्रमोशन हो रहा है और हमने भी अपनी फिल्म के प्रमोशन में कोई कसर नहीं छोड़ी है. मेरी छोड़िए, मैं तो केवल अभिनेता हूँ. लेकिन ज़रा फिल्म निर्माताओं की सोचिए वो इतना बड़ा नुकसान कैसे झेलेंगे.''

ख़बरों के मुताबिक अजय देवगन फिल्म्स ने यशराज बैनर के इस 'रवैए' के खिलाफ भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग में शिकायत भी दर्ज कराई है.

सिर्फ मैं ही क्यों दूं बलिदान ?

अगर ऐसा ही है तो अजय अपनी फिल्म की रिलीज़ एक हफ्ता आगे क्यों नहीं बढ़ा देते?

इस सवाल के जवाब में अजय कहते हैं, ''इतने बड़े बजट की फिल्म को अपनी लागत वसूल करने में कम से कम दो हफ्ते लगते हैं. अगर हम अपनी फिल्म 23 नवंबर को रिलीज़ करते हैं तो उसके अगले हफ्ते आमिर खान की फिल्म 'तलाश' रिलीज़ हो रही है. फिर अक्षय कुमार की 'खिलाडी 786' है और फिर साल के अंत में सलमान खान की 'दबंग 2' रिलीज़ हो रही है. अब क्या आप इन सब से कहेंगे कि वो अपनी फिल्मों की रिलीज़ दो हफ्ते आगे बढ़ा दें.''

अजय देवगन सवालिया लहजे में पूछते हैं कि यशराज फिल्म्स के लिए सिर्फ वो ही अपनी फिल्म का बलिदान क्यों दें ?

संबंधित समाचार