'विश्वरूपम' पर फैसला मंगलवार के लिए टला

 सोमवार, 28 जनवरी, 2013 को 11:54 IST तक के समाचार
विश्वरूपम,तमिल फिल्म

मद्रास हाई कोर्ट ने विश्वरूपम पर फैसला मंगलवार तक के लिए टाल दिया.

तमिल सुपरस्टार कमल हासन की फिल्म 'विश्वरूपम' पर सोमवार को आने वाला फैसला अब मंगलवार तक के लिए टल गया है.

मद्रास हाई कोर्ट ने फिल्म पर लगे प्रतिबंध पर अपने फैसले को एक दिन के लिए आगे बढ़ा दिया,साथ ही जज ने कहा कि कमल को सरकार से बात करके इस मामले के मैत्रीपूर्ण निपटारे के बारे में सोचना चाहिए.अदालत ने ये भी कहा कि उसे देश की एकता को लेकर चिंताएं है.

इस बीच ख़बरों के मुताबिक इस सिलसिले में कमल हासन की सरकारी अधिकारियों से जल्द मुलाकात संभव है.

कुछ मुस्लिम संगठनों के विरोध के बाद कमल की फिल्म विश्वरूपम पर तमिल नाडु सरकार द्वारा प्रतिबंध लगा दिया गया है जिसके लिए कमल ने कोर्ट का दरवाज़ा खटखटाया था. शनिवार को हाई कोर्ट के जज ने फिल्म को देखा जिसके बाद सोमवार को फैसला आने वाला था जो अब एक दिन के लिए टल गया है.

स्क्रीनिंग में बाधा

"कमल को सरकार से बात करके इस मामले के मैत्रीपूर्ण निपटारे के बारे में सोचना चाहिए.अदालत को देश की एकता को लेकर चिंताएं है."

मद्रास हाई कोर्ट जज

एजेंसी की ख़बरों के मुताबिक कर्नाटक के कुछ हिस्सों में भी विरोध के चलते फिल्म की स्क्रीनिंग में बाधा आई थी. वहीं हैदराबाद में फिल्म के तेलुगू संस्करण को दिखाया जा रहा है हालांकि शुक्रवार को पुलिस के आदेश के बाद इस फिल्म की स्क्रीनिंग बीच में ही रोक दी गई थी.

गौरतलब है कि कुछ मुस्लिम संस्थानों ने फिल्म को सांप्रदायिक कहकर विरोध प्रदर्शन किया जिसके बाद तमिलनाडु सरकार ने फिल्म पर प्रतिबंध लगाने का फैसला लिया था.

इस पर कमल ने प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा था, "इन आरोपों से मैं बहुत दुखी हूं.कुछ छोटे समूह अपने राजनैतिक स्वार्थ के लिए मुझे इस्तेमाल कर रहे हैं. इस फिल्म को बनाया इसलिए गया है कि कोई भी मु्सलमान इसे देखकर गौरवान्वित महसूस करेगा."

इस बीच प्रतिबंध का क्लिक करें फिल्म जगत ने भी कड़े शब्दों में निंदा की है.

इसे भी पढ़ें

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.