प्रियंका के पास गोविंदा के लिए वक्त नहीं?

गोविंदा
Image caption 'दीवाना मैं दीवाना' में गोविंदा और प्रियंका चोपड़ा साथ नज़र आएंगे.

'दीवाना मैं दीवाना' - गोविंदा और प्रियंका चोपड़ा की ये फिल्म 6 साल पहले बनकर तैयार हो गई थी लेकिन रिलीज़ 2013 में हो रही है.

निर्देशक केसी बोकाड़िया की इस फिल्म के प्रमोशन में गोविंदा तो मौजूद थे लेकिन प्रियंका चोपड़ा नदारद थीं.

गोविंदा से जब प्रियंका के बारे में पूछा गया तो जवाब मिला, "फिल्म बनाते वक्त बोकाड़िया साहब ने मुझसे पूछा था कि इस फिल्म के लिए प्रियंका को लेना कैसा रहेगा, तो मैंने कहा था कि देखिएगा एक दिन प्रियंका टॉप की स्टार बनेगी और देखिए आज वो कहां है."

अपनी बात पूरी करते हुए गोविंदा ने कहा "फिल्मों में कहा जाता है कि जिस वक्त निकल पड़ती है तो सबकी निकल पड़ती है. उम्मीद है कि प्रियंका और अच्छा करें. वो एक बेहतरीन अदाकारा है."

कार्यक्रम में प्रियंका की गैरमौजूदगी के सवाल का जवाब देते हुए गोविंदा ने कहा "कामयाब चीज़ को प्रश्न नहीं किया जाता. जब ये फिल्म कामयाब हो जाएगी तब आप ये प्रश्न नहीं करेंगे."

जब डैडी रोते थे

अपने मौजूदा वक्त के बारे में गोविंदा कहते हैं, "थोड़ी दिन पहले कोई मुझसे कह रहा था कि कैसा लगता है जब हीरोइन की तस्वीर राइट में लगती है और आपकी लेफ्ट में. मैंने कहा ऐसा दौर भी आया है जब लोगों ने कहा कि राजेश खन्ना की फिल्में हीरोइन की वजह से चली है और सुपरस्टार राजेश खन्ना बन गए."

'दीवाना में दीवाना' में नेगेटिव शेड का किरदार निभाने के बारे में गोविंदा ने कहा, "मेरे डैडी हीरो हुआ करता थे. महबूब ख़ान ने कहा कि विलेन का रोल कर लीजिए. उन्होंने मना कर दिया. फिर हमारा समय ठीक नहीं रहा. तब डैडी रोते थे कि जब काम मिलता है तो हम नुक्ता चीनी करते थे और फिर काम मिलना ही बंद हो जाता है."

गोविंदा मानते हैं कि जब वो फिल्मों के सेट पर समय से नहीं आते थे उस वक्त उनकी फिल्में काफी चलती थी. जब से समय पर आने लगे हैं तब से फिल्में बन तो जाती हैं लेकिन रिलीज़ होने में वक्त लग जाता है.

'दीवाना मैं दीवाना' एक फरवरी को रिलीज़ होगी.

संबंधित समाचार