जैक्सन की माँ ने बेटे की मौत के लिए मुकदमा ठोका

माइकल जैक्सन
Image caption दो साल तक चले मुकदमे के बाद माइकल जैक्सन के चिकित्सक को चार साल की जेल की सज़ा सुनाई गई थी

माइकल जैक्सन की माँ ने पॉप गायक के प्रमोटर्स एईजी लाइव के खिलाफ 40 अरब डॉलर हर्जाने का मुकदमा ठोका है जिस पर जूरी के चयन की प्रक्रिया शुरू हो गई है.

82 साल की कैथरीन जैक्सन का दावा है कि एईजी लाइव ने डॉ. कोनराड मर्रे की सेवाएं लेते समय लापरवाही बरती थी. डॉक्टर मर्रे गैरइरादतन हत्या के जुर्म में जेल में हैं.

(क्या आपने बीबीसी हिन्दी का नया एंड्रॉएड मोबाइल ऐप देखा ? डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें)

माइकल जैक्सन की मौत अधिक मात्रा में प्रोपोफोल के सेवन से हुई थी. वह नींद के लिए प्रोपोफोल का इस्तेमाल करते थे.

माइकल जैक्सन लंदन के ओटू एरेना से अपने कमबैक टूर की शुरुआत करने वाले थे लेकिन इससे तीन हफ्ते पहले ही उनकी मौत हो गई. कैथरीन का मानना है कि इस टूर के लिए उनके बेटे ने कड़ा पूर्वाभ्यास किया जो जानलेवा साबित हुआ.

बेतुका

एईजी लाइव ने कैथरीन के दावे को बेतुका बताया है. उनका कहना है कि माइकल जैक्सन का ड्रग लेने का लंबा इतिहास रहा है और डॉक्टर मर्रे से मिलने से पहले वो ऐसा करते आए थे.

प्रमोटर्स ने साथ ही कहा कि डॉक्टर की सेवाएं लेने और इलाज के लिए वो जिम्मेदार नहीं हैं और 40 अरब डॉलर का हर्जाना तर्कसंगत नहीं है क्योंकि माइकल जैक्सन का करियर ढ़लान पर था.

इस मामले की सुनवाई के दौरान डॉक्टर कोनराड मर्रे को सबूत देने के लिए कहा जा सकता है लेकिन उन्हें इससे इनकार करने का अधिकार है. मामले की सुनवाई इस सप्ताह शुरू होनी है.

संबंधित समाचार