'हीरोइनों के साथ नाम जोड़े जाने की आदत हो गई है'

  • 3 जून 2013
लुटेरा
Image caption निर्देशक विक्रमादित्य मोटवाने को उनकी पहली फिल्म 'उड़ान' के लिए भी काफी तारीफें मिली.

रणवीर सिंह ने 'बैंड बाजा बारात' से फिल्मों में अपनी शुरुआत की. इसके साथ ही शुरू हुआ सिलसिला उनके 'लिंक-अप्स' का भी. पहले अनुष्का शर्मा, फिर दीपिका पादुकोण और अब सोनाक्षी सिन्हा.

जिस भी अभिनेत्री के साथ ये फिल्म करते हैं, खुद ब खुद उसके नाम के साथ इनका नाम जुड़ जाता है.

बीबीसी ने एक खास मुलाक़ात के दौरान रणवीर से पूछा कि अपने इन 'लिंक-अप्स' के बारे में क्या कहना चाहेंगे वो?

इस सवाल के जवाब में रणवीर कहते हैं, ''शुरू शुरू में जब अपने बारे में मैं ये सब पढ़ता था तो मुझे बहुत बुरा लगता था. मैं सोचता था कि मीडिया मेरी निजी ज़िन्दगी के बारे में ये सब कैसे लिख सकता है. चार पांच दिनों तक मैं बस यही सोचता रहता था. लेकिन फिर मुझे ये समझ आ गया कि मैं जिस इंडस्ट्री का हिस्सा हूं वहां ये सब तो होगा ही.''

Image caption रणवीर और सोनाक्षी की जोड़ी पहली बार साथ में आ रही है.

तो क्या अब आदत हो गई है रणवीर को इन सब बातों की? रणवीर कहते हैं, ''अब तो मैं ये सब बातें पढ़ता भी नहीं हूं. अगर आप जवान हैं, एक अभिनेता हैं तो आपके बारे में ये सब कयास तो लगाए ही जाएंगे.''

नहीं अभी पूरी नहीं हुई है रणवीर की बात. वो कहते हैं कि आने वाले समय में उनकी एक के बाद एक चार फिल्में आ रही हैं और वो चाहते हैं कि लोग उनकी निजी ज़िन्दगी नहीं बल्कि उनके काम के बारे में लिखें.

रणवीर जल्द ही विक्रमादित्य मोटवाने की 'लुटेरा' में सोनाक्षी सिन्हा के साथ नज़र आने वाले हैं. फिल्म में रणवीर और सोनाक्षी के बीच कुछ अंतरंग दृश्य हैं. अब क्योंकि रणवीर का नाम सोनाक्षी से भी जोड़ा जा चुका है तो क्या इन अंतरंग दृश्यों को फिल्माते वक़्त दोनों के बीच कोई असहजता थी?

इस सवाल का जवाब देते हुए रणवीर कहते हैं, ''हम दोनों ही प्रोफेशनल हैं. सोनाक्षी बहुत ही समझदार हैं, इसलिए असहजता का कोई सवाल ही नहीं था. हम जानते हैं कि कैमरे के सामने हम जो भी कर रहे हैं वो हमारा काम है.''

Image caption फिल्म की कहानी 1953 की है.

रणवीर इन दृश्यों को खूबसूरती से फिल्माने का पूरा श्रेय निर्देशक विक्रमादित्य मोटवाने को देते हैं. रणवीर कहते हैं, ''विक्रमादित्य ने हमारे कम्फर्ट का ध्यान रखते हुए एक छोटा सेट बनाया था. जहां मेरे और सोनाक्षी के अलावा सिर्फ वो और कैमरामैन ही होता था. सिर्फ इतना ही नहीं विक्रमादित्य से हमें हर तरह का प्रोत्साहन और साथ मिला है.''

फिल्म के बारे में बात करते हुए रणवीर कहते हैं कि 'लुटेरा' एक बहुत ही भावुक फिल्म है. सेट पर सभी इस बात को समझते थे कि 'लुटेरा' एक जज़्बाती फिल्म है और सबका व्यवहार उसी तरह का होता था.''

'लुटेरा' 5 जुलाई को रिलीज़ हो रही है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड के लिए क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार