दिलीप कुमार की दास्तां: मधुबाला, सायरा और दोस्ती के क़िस्से

अमिताभ बच्चन, जया बच्चन और दिलीप कुमार.
Image caption अमिताभ बच्चन और उनकी पत्नी जया बच्चन, दिलीप कुमार के साथ. (साभार: सायरा बानो)

अभिनेता दिलीप कुमार एक ऐसे कलाकार हैं जिन्होंने अपने निजी जीवन के बारे में बहुत कम ही बात की है. लोगों को उनके फ़िल्मी जीवन के अलावा बाक़ी बातें कम ही पता हैं. लेकिन अब एक ऐसी किताब आने वाली है जिसके बारे में दावा किया जा रहा है कि इसमें दिलीप कुमार की ज़िंदगी से जुड़े कई ऐसे पहलू होंगे जिनके बारे में अब तक किसी को जानकारी नहीं.

बीबीसी से ख़ास बात करते हुए किताब की लेखिका उदय तारा ने ये दावा किया.

उदय तारा ने बताया कि ख़ुद दिलीप कुमार और सायरा बानो किताब का कवर पेज लॉन्च 11 अक्तूबर को अपनी शादी की सालगिरह पर करेंगे. इस साल दोनों की शादी को 47 साल पूरे हो जाएंगे.

पूरी किताब, 11 दिसंबर को दिलीप कुमार के 91वें जन्मदिन पर लॉन्च की जाएगी.

दिलीप कुमार और मधु बाला का प्यार

दिलीप कुमार और मधुबाला के प्यार के अफ़साने उस दौर में बहुत हुआ करते थे. दोनों की जोड़ी बड़े पर्दे पर भी ख़ासी हिट रही. लेकिन 1960 में आई के आसिफ़ की फ़िल्म 'मुग़ले आज़म' के बाद दोनों ने साथ कभी काम नहीं किया. इस किताब में दिलीप कुमार ने खुलकर मधुबाला के साथ अपने रिश्तों के बारे में बातें की हैं.

इसके अलावा अभिनेत्री कामिनी कौशल और दिलीप कुमार की दोस्ती का ज़िक्र भी इस किताब में है. कामिनी कौशल और दिलीप कुमार ने 40 के दशक में 'शहीद', 'नदिया के पार', 'आरज़ू' और 'शबनम' जैसी कई फ़िल्में कीं.

किताब में दिलीप कुमार ने क़ुबूल किया है कि कामिनी कौशल ही वो पहली महिला थीं जिनके प्रति वो आकर्षित हुए.

सायरा बानो से शादी

Image caption दिलीप कुमार और सायरा बानो की शादी की तस्वीर. (साभार: सायरा बानो)

इस किताब में दिलीप कुमार और सायरा बानो की पहली मुलाक़ात और फिर शादी का ज़िक्र भी होगा. किताब के पहले हिस्से में पेशावर में जन्म लेने से लेकर उनकी आख़िरी फ़िल्म 1998 में रिलीज़ हुई 'क़िला' तक का ज़िक्र होगा.

उदय तारा ने बताया कि किताब के लिए जब दिलीप कुमार अपनी मां और बड़े भाई अयूब ख़ान की मौत का ज़िक्र कर रहे थे तो अपनी भावनाओं पर क़ाबू नहीं रख सके और उनकी आंखों में आंसू आ गए.

क़रीबी दोस्त

Image caption एक पार्टी के दौरान 50 और 60 के दशक की मशहूर तिकड़ी दिलीप कुमार, देव आनंद और राज कपूर.

किताब में दिलीप कुमार के स्कूल के दिनों, बचपन की बातें और बॉम्बे टॉकीज़ में उनके शुरुआती दिनों का वर्णन भी होगा.

दिलीप कुमार फ़िल्मों में अपने रोल की तैयारी कैसे करते थे इस बात को भी विस्तार से बताया जाएगा.

किताब के दूसरे हिस्से में अमिताभ बच्चन, यश चोपड़ा, अनिल कपूर जैसे कई कलाकार दिलीप कुमार के बारे में अपने विचार और उनके साथ काम करने के अनुभव बांटेंगे.

इसके अलावा दिलीप कुमार के ग़ैर फ़िल्मी दोस्तों की भी इसमें बातें होंगी.

इसी साल सितंबर में दिलीप कुमार को बीमारी की वजह से अस्पताल में भर्ती कराया गया था. अब वो पूरी तरह से ठीक होकर घर वापस आ चुके हैं और इस किताब को लेकर उत्साहित हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार