जब 'गेटवे ऑफ़ इंडिया' में घिर गए थे अमिताभ

सात हिंदुस्तानी

अभिनेता अमिताभ बच्चन 11 अक्तूबर को 71 साल के हो गए. साल 1969 में उन्होंने ख़्वाजा अहमद अब्बास की फ़िल्म 'सात हिंदुस्तानी' से अपना करियर शुरू किया. ये तस्वीर उसी फ़िल्म की है. जिसमें दुबले-पतले अमिताभ सबसे दाएं नज़र आ रहे हैं.

(अमिताभ पर बॉलीवुड)

फ़िल्म को बॉक्स ऑफ़िस पर तो कामयाबी नहीं मिली लेकिन अमिताभ बच्चन को बेहतरीन अभिनय के लिए अपनी पहली ही फ़िल्म में राष्ट्रीय पुरस्कार मिला.

1978 में रिलीज़ हुई फ़िल्म 'डॉन' तो आपमें से कई लोगों ने देखी ही होगी. लेकिन ये तस्वीर कम ही लोगों ने देखी होगी. ये तस्वीर है 'डॉन' की शूटिंग के दौरान की, जिसमें अमिताभ बच्चन फ़िल्म के निर्देशक चंद्रा बारोट के साथ हंसी मज़ाक़ करते नज़र आ रहे हैं.

'डॉन' की शूटिंग का एक दृश्य. फ़िल्म के गाने 'ई है बंबई नगरिया' की शूटिंग गेटवे ऑफ़ इंडिया में हो रही थी और अमिताभ को देखने के लिए सैकड़ों लोगों की भीड़ जमा हो गई.

(कैसे किया अमिताभ ने शादी का ऐलान)

शूटिंग करने में ख़ासी दिक्क़त पेश आई. इस तस्वीर में निर्देशक चंद्रा बारोट भी नज़र आ रहे हैं. चंद्रा, अमिताभ को 'टाइगर' कहकर बुलाते हैं.

'डॉन' की शूटिंग के दौरान ही फ़िल्म के निर्माता नरीमन ईरानी का निधन हो गया था. तब चंद्रा बारोट, अमिताभ बच्चन और प्राण जैसे कलाकारों ने मिलकर फ़िल्म पूरी करने में नरीमन ईरानी की पत्नी को भरपूर सहयोग दिया था. फ़िल्म में प्राण को अमिताभ बच्चन से ज़्यादा मेहनताना मिला था.

1975 में रिलीज़ हुई फ़िल्म 'शोले' को भला कौन भूल सकता है. फ़िल्म ने बॉक्स ऑफ़िस पर कामयाबी के नए आयाम रचे. इसी फ़िल्म की शूटिंग के दौरान एक सीन पर चर्चा करते निर्देशक रमेश सिप्पी और अमिताभ बच्चन.

'शोले' जब रिलीज़ हुई थी तो पहले हफ़्ते फ़िल्म को दर्शकों ने लगभग नकार दिया था. तब निर्देशक रमेश सिप्पी ने अमिताभ बच्चन से कहा कि वो क्लाईमेक्स दोबारा शूट करना चाहते हैं.

क्लाइमेक्स में अमिताभ बच्चन का किरदार मर जाता है और सिप्पी उसे क्लाइमेक्स रीशूट करके इसे बदलना चाह रहे थे. लेकिन दूसरे हफ़्ते में अचानक 'दर्शक' शोले देखने टूट पड़े और फिर जो हुआ वो तो इतिहास है.

इस तस्वीर में 70 के दशक के युवा अमिताभ बच्चन नज़र आ रहे हैं फ़ोटोग्राफ़र दीपक तांबे के साथ. अमिताभ बच्चन ने जब फ़िल्मों में प्रवेश किया उस वक़्त राजेश खन्ना की आंधी थी.

अमिताभ की लगातार कई फ़िल्में फ़्लॉप हुईं और उनका करियर लगभग समाप्ति की ओर था. लेकिन साल 1973 में आई प्रकाश मेहरा की 'ज़ंजीर' ने सब बदल कर रख दिया और अमिताभ ने जो स्टारडम की ओर क़दम बढ़ाया तो आज तक उनका वो रुतबा क़ायम है.

गायक सुदेश भोसले के साथ अमिताभ बच्चन. ये तस्वीर है 90 के दशक के शुरुआत की. इसी दौर में आई फ़िल्म 'हम' के गाने 'जुम्मा चुम्मा' ने कामयाबी का इतिहास बना दिया. अमिताभ के लिए ये गाना सुदेश भोसले ने ही गाया.

(बीबीसी से क्या बोले अमिताभ)

उनकी आवाज़ अमिताभ बच्चन से इतनी ज़्यादा मिलती है कि एक दफ़ा सुदेश ने फ़ोन पर अमिताभ की पत्नी जया बच्चन से बात की तो वो उन्हें अमिताभ ही समझ बैठीं.

ये तस्वीर है फ़िल्म 'अब तुम्हारे हवाले वतन साथियो' के प्रमोशन के दौरान की. जिसमें धर्मेंद्र भी नज़र आ रहे हैं.

फ़िल्म 2004 में रिलीज़ हुई थी. ये बॉक्स ऑफ़िस पर नाकाम रही थी.

ये तस्वीर है अमिताभ बच्चन के मुंबई स्थित घर जलसा की. जिसमें पत्नी जया बच्चन, बहू ऐश्वर्या राय बच्चन और बेटे अभिषेक बच्चन भी नज़र आ रहे हैं. अमिताभ बच्चन हर रविवार अपने घर के बाहर प्रशंसकों से मिलते हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)