आमिर के साथ बनाना चाहूंगी जोड़ी: आशा पारेख

  • 7 दिसंबर 2013
'वॉक ऑफ़ द स्टार्स'

देव आनंद, शम्मी कपूर, धर्मेंद्र और राजेश खन्ना जैसे कई कलाकारों के साथ 60 और 70 के दशक में परदे पर रोमांस कर चुकी अभिनेत्री आशा पारेख को मौजूदा दौर के किसी हीरो के साथ जोड़ी बनानी हो तो उनकी पहली पसंद कौन होगी. जब आशा पारेख से ये सवाल पूछा गया तो वो बोलीं, "मैं आमिर के साथ जोड़ी बनाना चाहूंगी. वो मुझे बहुत पसंद हैं. साथ ही मुझे शाहरुख़ ख़ान और सलमान ख़ान भी पसंद हैं."

(आशा पारेख बनना चाहती थीं डॉक्टर)

आशा ने बताया कि अभिनेत्रियों में वो दीपिका पादुकोण, विद्या बालन और प्रियंका चोपड़ा को बहुत पसंद करती हैं.

यूटीवी स्टार्स के कार्यक्रम 'वॉक ऑफ़ द स्टार्स' में आशा पारेख ने हिस्सा लेते हुए ये बातें कहीं.

'वॉक ऑफ़ द स्टार्स' के तहत हिंदी सिनेमा के जाने-माने कलाकारों के हाथ और पैर के निशान यादगार के तौर पर लिए जाते हैं और इसी कड़ी में आशा पारेख को भी आमंत्रित किया गया था.

Image caption आशा पारेख ने 60 और 70 के दशक में कई सुपरहिट फ़िल्में दीं.

इस दौरान आशा पारेख के साथ और उनके दौर में काम कर चुके कई कलाकार जैसे वहीदा रहमान, जीतेंद्र, हेलन और शम्मी भी मौजूद रहे.

कैसे बिताती हैं वक़्त ?

आशा पारेख क्या फ़िल्मों में अब नहीं लौटेंगी. ये पूछने पर उन्होंने कहा, "भविष्य के बारे में क्या कहा जा सकता है. कुछ भी हो सकता है. मैं अभी कुछ नहीं कह सकती. फ़िलहाल मैं कोई स्क्रिप्ट नहीं देख रही हूं."

(जब बीबीसी में आए दिग्गज सितारे)

आजकल वो अपना वक़्त कैसे बिताती हैं.

ये पूछने पर आशा पारेख ने कहा, "जो आमतौर पर लोगों की दिनचर्या होती है वही करती हूं. कभी-कभी मैं, हेलन, शम्मी जी, वहीदा रहमान, साधना, नंदा वगैरह मिलकर बाहर खाना खाने जाते हैं. अपने दौर की बातें करते हैं. बस इसी तरह से हमारा समय बीतता है."

'सीरियल निर्माण अब नहीं'

आशा पारेख ने कुछ सालों पहले टीवी सीरियल निर्माण में भी क़दम रखा था और कई सीरियल बनाए थे. लेकिन अब वो इस तरह का कोई इरादा नहीं रखतीं.

('जो कुछ हूं बॉबी की वजह से')

उन्होंने कहा, "अब तो डेली सोप का ज़माना हो गया है. रचनात्मकता की जगह ही नहीं रह गई है. कई सीरियल तो महिलाओं को इतने बुरे तरीके से पेश करते हैं कि मेरा मन ही नहीं करता उन्हें देखना का. मुझसे इस तरह से काम नहीं होगा."

आशा पारेख मौजूदा दौर में फ़िल्मों में आइटम सॉन्ग के चलन से भी ज़्यादा ख़ुश नहीं हैं. वो चाहती हैं कि फ़िल्मों में फ़ोक म्यूज़िक की वापसी होनी चाहिए.

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार