सोफ़िया हयात अरमान के ख़िलाफ़ पुलिस तक पहुंची

सोफ़िया हयात

रियलिटी टीवी शो 'बिग बॉस-7' से हाल ही में बाहर हुई ब्रिटिश अभिनेत्री सोफ़िया हयात ने अपने सह प्रतियोगी अरमान कोहली पर बदतमीज़ी और मारपीट का आरोप लगाते हुए मुंबई के सांताक्रुज पुलिस थाने में शिक़ायत दर्ज कराई है.

(तनीशा से 'नाराज़' काजोल)

बीबीसी से ख़ास बातचीत में सोफ़िया ने इस बात की पुष्टि की. उन्होंने बताया, "‏शो के दौरान जब मैं वाइपर से कार साफ़ कर रही थी तो अरमान ने वो मुझसे छीनने की कोशिश की और छीना छपटी में मुझे चोट भी लगी. शो में वो बहुत आक्रामक हो गए थे. बल्कि टीवी पर वो सारे दृश्य हटा दिए गए थे. शो में जितना दिखता है वो उससे कहीं ज़्यादा आक्रामक और हमलावर हैं."

शो में सोफ़िया और अरमान की कई बार तू-तू मैं-मैं हुई और दोनों ने ही खुलकर एक दूसरे के ख़िलाफ़ अपशब्दों का इस्तेमाल किया.

'बदतमीज़ हैं अरमान'

Image caption सोफ़िया हयात ने अरमान कोहली के ख़िलाफ़ पुलिस में शिक़ायत दर्ज कराई है.

सोफ़िया ने कहा कि इस घटना के फ़ौरन बाद वो शो से जाना चाहती थीं और उन्होंने 'बिग बॉस' से ये दरख़्वास्त भी की कि वो शो में मिला पैसा वापस करने को तैयार हैं लेकिन उन्हें सलाह दी गई कि वो कुछ दिन और रुकें.

('तो मत देखो बिग बॉस')

सोफ़िया ने ये भी कहा कि अरमान ने ना सिर्फ़ उनके साथ बल्कि शो में मौजूद दूसरी महिला प्रतियोगियों के साथ भी कई दफ़ा बदतमीज़ी की.

वो कहती हैं, "अरमान औरतों की इज़्ज़त करना नहीं जानते. सबने देखा है कि वो तनीषा से कैसे बेहूदे तरीक़े से बात करते हैं. उनकी स्पिलिट पर्सनैलिटी है. वो कभी अचानक से बड़े मधुर अंदाज़ में बात करने लगते हैं और अगले ही पल गाली-गलौज करने लगता है."

'बिग बॉस' शो पर पहले भी कई तरह के आरोप लग चुके हैं. पिछले साल भी शो में प्रतियोगियों द्वारा अभद्र भाषा के इस्तेमाल के आरोप लगे थे जिसके बाद कुछ दिनों के लिए शो का वक़्त प्राइम टाइम से हटाकर रात 10 बजे कर दिया गया था.

बाद में शो के आयोजकों ने जब सूचना और प्रसारण मंत्रालय को आश्वासन दिया कि शो में ऐसा नहीं होगा, तब इसे वापस प्राइम टाइम पर लाया गया.

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार