पहले तो हमारा मेकअप भी मर्द ही करते थे: माधुरी

माधुरी दीक्षित इमेज कॉपीरइट Hoture Images

अस्सी के दशक में अपना बॉलीवुड करियर शुरू करने वाली माधुरी दीक्षित तब से लेकर अब तक यहां क्या बदलाव देखती हैं?

राजश्री प्रोडक्शंस की 'अबोध' से बतौर अभिनेत्री शुरुआत करने वाली माधुरी को जल्द ही रिलीज़ होने वाली 'गुलाब गैंग' तक फ़िल्मी दुनिया में क्या परिवर्तन देखने को मिले हैं?

(नसीर के सामने मैं शर्मा गई: माधुरी दीक्षित)

माधुरी के मुताबिक़ इसका जवाब है, महिलाओं की बढ़ती भागीदारी.

बात को और स्पष्ट करते हुए माधुरी ने बताया, "पहले सेट पर हीरोइन और हेयर ड्रेसर के अलावा बाकी सब पुरुष होते थे. यहां तक कि मेकअप भी मर्द ही करते थे. अब स्थिति बदली है. कैमरे के पीछे भी औरतों का योगदान बढ़ रहा है. महिला निर्देशकों के अलावा, एडीटर, मेकअप आर्टिस्ट और बाक़ी के दूसरे काम भी औरतें संभालने लगी हैं."

फ़ीस में अंतर

इमेज कॉपीरइट Gulab Gang

अपनी आने वाली फ़िल्म 'गुलाब गैंग' के बारे में पत्रकारों से बात करते हुए माधुरी ने ये बातें कहीं. लेकिन ऐसा नहीं है कि सब कुछ बदल गया हो. माधुरी मानती हैं कि अब भी महिला और पुरुष कलाकारों के पारिश्रमिक में काफ़ी अंतर है.

('चोली के पीछे पर भी मचा था हंगामा')

वह कहती हैं, "देखिए, फ़ीस में बदलाव के लिए, महिला कलाकारों का पारिश्रमिक बेहतर करने के लिए अब भी बहुत प्रयास करने की ज़रूरत है."

माधुरी, बॉलीवुड ही नहीं पूरे देश में औरतों की स्थिति को बेहतर बनाने की ज़रूरत मानती हैं.

सोच में बदलाव ज़रूरी

इमेज कॉपीरइट Gulab Gang

वह कहती हैं, "अब भी कई परिवारों में लड़कों को पढ़ाया जाता है जबकि लड़कियों को शिक्षा नहीं दी जाती. ये बिलकुल ग़लत है."

उनके अनुसार, "अशिक्षा की वजह से ही महिलाओं की स्थिति ख़राब है. और ऐसे समाज में पुरुष भी महिलाओं को इज़्ज़त नहीं देते. इस सोच में बदलाव लाना बहुत ज़रूरी है."

फ़िल्म इंडस्ट्री में माधुरी के दोस्त कौन-कौन हैं?

इसके जवाब में उन्होंने कहा, "80 और 90 के दशक में जब मैं बहुत व्यस्त थी तो तीन-तीन शिफ़्ट में काम करती थी. तब किसी से इतना मिलने-जुलने का वक़्त ही नहीं था. तो दोस्ती किसी से हुई ही नहीं. हां अब भी जब मैं अपने पुराने साथी कलाकारों जैसे अनिल कपूर, जैकी जी या आमिर, शाहरुख़ से मिलती हूं तो बहुत अपनेपन से बात होती है."

'गुलाब गैंग', में माधुरी दीक्षित के साथ जूही चावला की भी मुख्य भूमिका है. दोनों अभिनेत्रियां पहली बार साथ दिखेंगी और माधुरी इसे एक यादगार अनुभव मानती हैं.

फ़िल्म के निर्देशक सौमिक सेन हैं और ये सात मार्च को रिलीज़ हो रही है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार