दस लाख पाउंड में उधार लिया वायलिन

रॉबर्टो रुइसी

बर्मिंघम के 18 वर्षीय किशोर रॉबर्टो रुइसी ने 10 लाख पाउंड में एक वायलिन उधार लिया है. रुइसी इस वायलिन पर बीबीसी प्रॉम समेत कई बड़े संगीत कार्यक्रमों में सुर लहरियाँ देंगे.

वायलिन के मालिक जॉन लुडलो हैं.

लुडलो और रुइसी में एक समानता है. दोनों पढ़ने के लिए एजबस्टन से बर्मिंघम आए और किंग एडवर्ड्स स्कूल में पढ़ाई की.

14 साल की उम्र में रॉबर्टो ''नेशनल यूथ ऑर्केस्ट्रा ऑफ़ ग्रेट ब्रिटेन'' में शामिल हुए और ऑर्केस्ट्रा में शामिल होने वाले सबसे युवा थे.

1948 में पेशेवर संगीतकार लुडलो ऑर्केस्ट्रा के पहले लीडर बने थे. लुडलो ने यह वायलिन 1965 में ख़रीदा था.

रॉबर्टो ने कहा, "इस विशिष्ट उपकरण पर सुर लहरियाँ निकालना विस्मयकारी है. मेरे लिए स्ट्रेड सिर्फ़ वायलिन नहीं है, बल्कि संगीत के मेरे विचारों को और विस्तार देने का उपकरण है."

रॉबर्टो और अपने बीच की समानता के बारे में लुडलो ने कहा, "रूबी मुझसे बेहतर वायलिन बजा चुके हैं और उनका बेहतरीन भविष्य है."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार