मैं ख़ुशनसीब हूंः श्रद्धा कपूर

शाहिद और श्रद्धा कपूर इमेज कॉपीरइट Hoture

'आशिक़ी-2' और 'एक विलेन' के बाद एक्ट्रेस श्रद्धा कपूर की तीसरी बड़ी फ़िल्म 'हैदर' रिलीज़ के लिए तैयार है. 'हैदर' विशाल भारद्वाज की फ़िल्म है जिसमें श्रद्धा के अलावा, शाहिद कपूर, तब्बू और इरफ़ान हैं.

आदित्य रॉय कपूर और सिद्धार्थ मल्होत्रा जैसे यंग एक्टर्स के साथ काम करने के बाद पहली बार श्रद्धा को 'हैदर' के ज़रिए तब्बू और इरफ़ान ख़ान जैसे मंझे हुए कलाकारों के साथ काम करने का मौक़ा मिल रहा है.

श्रद्धा इसके लिए ख़ुद को ख़ुशनसीब मानती हैं.

उन्होंने कहा, ''मैं तब्बू और इरफ़ान ख़ान जैसे कलाकारों के साथ काम करने की कल्पना भी नहीं कर सकती थी. मैं लकी हूं मुझे अपनी 5वीं फ़िल्म में ही ये मौक़ा मिल गया. ये सभी बहुत उम्दा कलाकार हैं.''

तब्बू की प्रशंसक

इमेज कॉपीरइट Hoture

श्रद्धा तब्बु की बहुत बड़ी प्रशंसक हैं. वो बताती हैं कि कैसे मौक़ा पाकर उन्होंने तब्बु से एक्टिंग के टिप्स लिए थे.

वो बताती हैं, ''इसमें कोई शक नहीं है कि तब्बु मैम कैमरे के सामने एक बेहतरीन अदाकारा हैं, लेकिन ऑफ़ कैमरा भी उनकी ऊर्जा आपको महसूस होती है. मुझे शूटिंग के दौरान एक बार उनके साथ कार में जाने का मौक़ा मिला था. तब मैंने उनसे एक पत्रकार की तरह काफ़ी सवाल पूछ डाले थे.''

विशाल की हीरोइन बनकर ख़ुश

इमेज कॉपीरइट AFP

'मक़बूल' और 'ओमकारा' जैसी फ़िल्में बनाने वाले डायरेक्टर विशाल भारद्वाज की फ़िल्म की हीरोइन बनकर भी श्रद्धा कम ख़ुश नहीं हैं.

उन्होंने बताया, ''मेरी डायरेक्टर्स की एक विश लिस्ट है जिसमें विशाल सर का नाम भी है. हर दिन मैं खुद को पिंच करती थी और याद दिलाती थी कि मुझे विशाल भारद्वाज जैसे डायरेक्टर के साथ काम करने का मौका मिला है.''

फ़िल्म की शूटिंग के दौरान अपने अनुभवों का ज़िक्र करते हुए श्रद्धा कहती हैं, ''मैं कश्मीर थोड़ा पहले आई थी, क्योंकि विशाल सर चाहते थे कि मैं कश्मीरी लोगों की तरह बातचीत करना सीखूं. सेट पर मेरी ज़रूरत नहीं होती थी तब भी मैं वहां जाती थी, जिससे मुझे फ़िल्म को बेहतर समझने में मदद मिले.''

'हैदर' इस साल दो अक्तूबर को ऋतिक रौशन की फ़िल्म 'बैंग-बैंग' के साथ रिलीज़ होगी.

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार