'एक्टर आमिर में लोगों की दिलचस्पी नहीं'

आमिर ख़ान

ये एक ऐसी प्रेस वार्ता थी जिसमें हंसी-मज़ाक़ भी था, भावनाओं का ग़ुबार भी था और आंसू भी थे. ये सब हुआ जब आमिर ख़ान अपने टीवी शो 'सत्यमेव जयते' के तीसरे संस्करण की जानकारी देने के लिए मीडिया से मुख़ातिब हुए.

'सत्यमेव जयते' का ये सत्र, 21 सितंबर से शुरू होगा.

इस दौरान शो की विषय-वस्तु बताते हुए आमिर ख़ान रो पड़े.

'भावुक लम्हा'

उन्होंने कहा, "शो की रिसर्च के दौरान मुझे कई ऐसे वाक़यों से रूबरू होना पड़ता है जो हिला देने वाले होते हैं. वो ग़म आपको नहीं दिखा सकते लेकिन मेरे लिए वो बड़े भावुक होते हैं."

ऐसे ही एक अनुभव को उन्होंने बांटा. "पिछले सीज़न में बलात्कार पीड़ितों पर रिसर्च के दौरान एक लड़की का केस सामने आया. बलात्कार के बाद उसे जला दिया गया. अस्पताल में मरते वक़्त उसने अपना बयान दिया. वो मैंने देखा. लेकिन उसे हम आपको नहीं दिखा सकते. मेरे लिए वो बहुत दर्दनाक अनुभव था."

आमिर ने ये भी बताया कि अब लोग उन्हें अभिनेता नहीं बल्कि इस शो की वजह से ज़्यादा जानते हैं.

'फ़िल्मों में लोगों की दिलचस्पी नहीं'

इमेज कॉपीरइट Yashraj Films

उन्होंने कहा, "मैं फ़िल्म पीके की शूटिंग के लिए राजस्थान गया. उस वक़्त मेरी फ़िल्म धूम-3 रिलीज़ होने वाली थी. जब मैं इस सिलसिले में स्थानीय पत्रकारों से मिला तो किसी ने बी धूम-3 की बात तक नहीं की. किसी ने पीके के बारे में भी नहीं पूछा. सब के सब सिर्फ़ सत्यमेव जयते के बारे में पूछ रहे थे."

आमिर ने आख़िर में हंसते हुए कहा, "शुक्र है धूम-3 हिट हो गई वर्ना मुझे फ़िल्मों से रिटायर होना पड़ता."

आमिर ख़ान ने बताया कि इस दफ़ा टीवी पर अपने हर एपिसोड के ख़त्म होने के बाद वो एक घंटा ऑनलाइन होंगे और दर्शकों से जुड़े रहकर उनके सवालों के जवाब देंगे.

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार