बैंग बैंग: मंयक शेखर का रिव्यू

'बैंग बैंग' इमेज कॉपीरइट Fox Star

फ़िल्म: बैंग बैंग

निर्देशक: सिद्धार्थ आनंद

कलाकार: ऋतिक रोशन, कटरीना कैफ़

रेटिंग: *

और कुछ नहीं तो कम से कम इस फ़िल्म का मूर्खतापूर्ण प्लॉट आपको इसे नोटिस करने पर मजबूर कर देगा.

भारत और ब्रिटेन की प्रत्यर्पण संधि बस होने ही वाली है. और ये बात खलनायक डॉ. डैंग उर्फ़ उमर (डैनी डेनजोंग्पा) के लिए बुरी ख़बर है.

इमेज कॉपीरइट Fox Star
Image caption 'बैंग बैंग' में स्टंट के सिवा कुछ नहीं है.

अगर ये संधि हो जाती है तो उसका धंधा चौपट हो जाएगा. उसे हर हाल में इसे होने से रोकना है.

उसके लिए वो एक प्लान बनाता है. वो ब्रिटेन में बेशक़ीमती कोहिनूर हीरे को चुराने की योजना बनाता है और इसके लिए वो एक भारतीय नागरिक की मदद लेता है.

अब इस प्लान से ये प्रत्यर्पण संधि को रोकने में कैसे मदद मिलेगी ये भगवान या निर्देशक सिद्धार्थ आनंद ही जानते हैं.

हॉलीवुड फ़िल्म की कॉपी

इमेज कॉपीरइट Fox Star

ख़ैर. उमर हीरे को चुराने के एवज़ में तक़रीबन 30 करोड़ रुपए का इनाम देने का ऐलान करता है.

हॉलीवुड फ़िल्म 'नाइट एंड डे' के निर्माताओं से अनुमति लेकर इसका प्लॉट चुराया गया है.

कहा जा रहा है कि फ़िल्म का बजट क़रीब 140 करोड़ रुपए है.

भारी भरकम बजट

इमेज कॉपीरइट Fox Star

भला क्यों इस फ़िल्म पर इतना पैसा लगाया गया?

वजह नंबर एक- ऋतिक रोशन जैसा विश्वसनीय स्टार होना.

ये फ़िल्म ऋतिक के लिए 'धूम-3' की तरह है.

इमेज कॉपीरइट Fox Star

इसमें बला के फ़िट, कसे हुए, सिक्स पैक एब्स से युक्त ऋतिक रोशन हेलिकॉप्टर से कूदते हुए, मोटर बोट पर भागते हुए और फॉर्मूला वन कार दौड़ाते हुए दिखाई देते हैं.

वजह नंबर 2- कटरीना कैफ़. जो इससे पहले 250 करोड़ रुपए की कमाई पार करने वाली पहली बॉलीवुड फ़िल्म 'धूम-3' में दिखाई दी थीं.

इसमें वो हीरो के साथ बग़ैर पासपोर्ट के थाइलैंड से लेकर चेक रिपब्लिक तक घूमती रहती हैं.

उबाऊ कटरीना

इमेज कॉपीरइट Fox Star

फ़िल्म के हर शॉट में वो बड़े इठलाते हुए नज़र आती हैं. हद दर्जे के आलसपन के साथ अपने होंठ खोलती हैं.

अपनी आंखे ऐसे घुमाती हैं जैसे वो किसी आम को सिड्यूस (आकर्षित) कर रही हों.

या फिर कोई चॉको बार खाने के लिए तैयार हो रही हैं. या फिर बाथरूम के टाइल्स का विज्ञापन कर रही हों.

अगर ये सब वजहें आपको 'बैंग बैंग' देखने के लिए उकसा पाती हैं तो जाइए. शौक से ये ढाई घंटे लंबी फ़िल्म देखिए.

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

संबंधित समाचार