नहीं करनी 'जूली 2': नेहा धूपिया

नेहा धूपिया इमेज कॉपीरइट hoture images

'मैं जूली फ़िल्म के सीक्वल करना ही नहीं चाहती'

"मुझे अब जूली जैसी फ़िल्मों की ज़रूरत नहीं है. मुझे लगता है कि आपने जो एक बार कर दिया बस कर दिया"

ये कहना है फ़िल्म 'इक्कीस तोपों की सलामी' की हीरोइन नेहा धूपिया का.

इस फ़िल्म में वो 'जयप्रभा' का किरदार निभा रहीं हैं और उनका किरदार काफी चुलबुला है.

आइडिया की कमी, सीक्वल का जन्म

नेहा कहती हैं, "मुझे लगता है कि सीक्वल तब बनता है जब किसी फ़िल्मकार के पास नया 'आईडिया' नहीं होता. जो अच्छा फ़िल्मकार होगा वो हमेशा या नई कहानी के बारे सोचेगा."

इमेज कॉपीरइट AFP

गिनी-चुनी हिट फ़िल्मों में काम करने वाली अभिनेत्री नेहा धूपिया को क्या रोल के लिए जद्दोजहद करनी पड़ती है या फिर उन्हें ख़ुद-ब-ख़ुद रोल मिल जाते हैं?

इमेज कॉपीरइट peta
Image caption नेहा धूपिया साल 2002 में फ़ेमिना मिस इंडिया रही हैं.

नेहा कहती हैं, "रोल के लिए थोड़ी बहुत मेहनत करनी पड़ती है पर मुझे अच्छा लगता है अगर कोई मेरे पास रोल का ऑफ़र लेकर आता है तो मुझे काफ़ी अच्छा लगता है."

नेहा धूपिया का नाम आते ही एक बहुत ही ख़ूबसूरत, सेक्सी और बिंदास अभिनेत्री की छवि बन जाती है पर नेहा कहती हैं कि वो बिलकुल भी 'सेक्सी' नहीं हैं पर अगर लोगों को लगता है कि वो सेक्सी हैं तो उन्हें इससे कोई दिक़्क़त नहीं है.

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार