बिग बी की मौजूदगी में शाहरुख़ चीफ़ गेस्ट

अमिताभ बच्चन इमेज कॉपीरइट AFP

सुपरस्टार का सुनहरा दौर देखने के बाद अमिताभ बच्चन को वह वक़्त भी देखना पड़ा, जब उनके पास काम लगभग नहीं के बराबर रह गया था.

एक वाक़ये को मैं ज़रूर साझा करूंगा. यह बात 1999 की है जब वह 'मोहब्बतें' में काम कर रहे थे.

ऐसा कहा जाता है कि अमिताभ ख़ुद परेशान होकर यश चोपड़ा के पास काम मांगने गए थे.

हालाँकि मुझे पता नहीं है कि इस बात में कितनी सच्चाई है, लेकिन इन अफवाहों को वो लोग हवा दे रहे थे जो आज फिर उनके अच्छे दोस्त समझे जाते हैं.

निराशा

इमेज कॉपीरइट Hoture

अमिताभ हमेशा समय के पाबंद रहे हैं. मुझे अपने दोस्त साइरस मर्चेंट की किताब 'हार्टफेल्ट' का विमोचन याद आता है.

अमिताभ को रात्रि 8.30 बजे कार्यक्रम में बुलाया गया था और वह सीधे स्टूडियो से आए थे जहां वह शाहरुख़ ख़ान के साथ 'मोहब्बतें' की शूटिंग कर रहे थे.

उस वक़्त प्लैनेट एम में कैटरर्स और डेकोरेटर्स को छोड़कर कोई भी नहीं पहुंचा था.

वहां केवल अमिताभ बैठे थे जो निराश दिखाई दे रहे थे. उन्होंने मेरा खुलकर स्वागत किया.

धीरे-धीरे प्लैनेट एम में रईसों और सेलिब्रिटी का जमावड़ा लगना शुरू हुआ.

इमेज कॉपीरइट Film Fare

या तो उन्होंने अमिताभ को पहचाना नहीं या फिर उन्होंने उनको नज़रअंदाज़ किया. उसी वक़्त मुझे साइरस ने बताया कि अमिताभ नहीं बल्कि शाहरुख़ ख़ान किताब का विमोचन कर रहे हैं.

मैं अमिताभ के चेहरे के भाव को कभी नहीं भूल सकता जब मैंने उन्हें यह बात बताई थी.

महान अभिनेता

अमिताभ सचमुच एक महान अभिनेता हैं. उन्होंने अपने दर्द, हैरानी और असंतुष्टि को बड़ी सहजता से छिपाते हुए कहा, "मैं तो शाहरुख़ के साथ शूटिंग कर रहा था और उन्होंने मुझसे कभी ऐसी बात नहीं कही."

शाहरुख़ ख़ान तो शाहरुख़ ख़ान हैं. वह शूटिंग के बाद घर गए, वहां से नहाकर, कपड़े बदलकर वहां रात 11 बजे पहुंचे. उस वक़्त तक मैं और अमिताभ प्लैनेट एम की सीढ़ियों पर बैठे हुए बातचीत कर रहे थे.

इमेज कॉपीरइट KBC

जब किताब के विमोचन और रिबन काटने का वक़्त आया तब मेज़बान ने बड़े सम्मानजनक अंदाज़ में अमिताभ को स्टेज़ पर आमंत्रित किया और उनसे कुछ शब्द कहने के लिए कहा.

वह इनक़ार नहीं कर सके. यह किसी अभिनेता की ज़िंदगी में एक ऑस्कर वाला क्षण होता है. वह स्टेज़ पर गए और उन्होंने इस मौक़े के मुताबिक़ कविता की कुछ पंक्तियां सुनाईं.

कौन बनेगा करोड़पति

इसके बाद "कौन बनेगा करोड़पति" जैसे शो की शुरुआत हुई जिसने कई भारतीय लोगों के साथ ही देश के बेहद प्रतिभाशाली अभिनेता की तक़दीर भी बदल दी.

उन्होंने मेरे जन्मदिन पर बधाई दी थी और अब मैं उन्हें सालगिरह की मुबारकबाद दे रहा हूं.

और यह रही हमारी तस्वीर जो मेरे दफ़्तर के फ़ोटोग्राफ़र ने ली थी जिसमें मैं और अमिताभ प्लैनेट एम में बैठे नज़र आ रहे हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार