मुझमें आज भी आत्मविश्वास की कमी: शाहरुख़

इमेज कॉपीरइट Red Chillies Entertainment

शाहरुख़ ख़ान की फिल्म 'हैप्पी न्यू ईयर' को बॉलीवुड की सबसे महंगी फिल्मों में से एक कहा जा सकता है.

बतौर प्रोड्यूसर शाहरुख़ ख़ान ने फिल्म में ख़ूब पैसा लगाया. फिल्म की शूटिंग दुबई में हुई जबकि इसमें अंतरराष्ट्रीय स्तर के स्पेशल इफेक्ट्स हैं. यही नहीं, फिल्म के प्रमोशन के लिए इसकी टीम अमरीका और ब्रिटेन तक गई. फिल्म को कैसे प्रमोट करना है, शाहरुख़ ये भली भांति जानते हैं.

पर एक चीज़ जिससे उनके हाथ पैर आज भी फूलते हैं - वो है निर्देशन.

शाहरुख़ कहते हैं, "बेशक मुझे इस इंडस्ट्री में 25 साल हो गए हैं पर मेरे हाथ पैर आज भी निर्देशन के नाम से फूलते हैं, मैं शायद निर्देशन नहीं कर सकता. मुझमे वो आत्मविश्वास नहीं है.

फ़राह से सीखना चाहता हूँ

इमेज कॉपीरइट hoture

शाहरुख़ ने अपनी फिल्म 'हैप्पी न्यू ईयर' की निर्देशिका फ़राह ख़ान के बारे में कहा, "फ़राह जैसा आत्मविश्वास मुझमें नहीं है. वो दस हज़ार लोगों के सामने दूर से हेलीकॉप्टर को देख शॉट ले लेती हैं और दूर से उसे ओके भी कर देती हैं. शायद मैं कभी ऐसा ना कर पाउं. मेरे अंदर वो स्पष्टता नहीं है. ये एक ऐसी चीज़ है जो मुझे उससे सीखनी चाहिए. पर कभी कभी ये आत्मविश्वास अच्छा भी होता है कभी बुरा भी."

निर्देशन के बारे में आगे शाहरुख़ ने कहा, "निर्देशन के क्षेत्र में पुरुषों का वर्चस्व है, पर फ़राह जैसी महिला इस क्षेत्र में भी कमाल है. उन्हें लोग प्यार करते हैं, उनका आदर करते हैं. वो बेशक लोगों पर चिल्लाती हैं पर वो सबको माँ जैसा प्यार करती हैं."

शाहरुख़ कई बड़ी फिल्मों के निर्माता रह चुके हैं जिनमें फिर भी दिल है हिंदुस्तानी, अशोक और रा.वन. शामिल हैं.

शाहरुख़ मानते हैं कि वो एक बेहतर निर्माता हैं लेकिन निर्देशन में उनका हाथ थोड़ा कच्चा है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार