मेरी फ़िल्म विवादास्पद है: केतन मेहता

झकझोरने देने वाले विषयों पर फ़िल्म बनाने वाले निर्देशक केतन मेहता की फ़िल्म 'रंगरसिया' पांच साल के लंबे इंतज़ार के बाद पर्दे पर उतरने वाली है.

केतन ने बीबीसी से बातचीत में कहा, "उनकी फ़िल्म बेहद संवेदनशील और विवादास्पद विषय पर बनी है"

ये फिल्म पहले सेंसर बोर्ड में अटकी रही. बाद में डिस्ट्रीब्यूटर इसे घाटे का सौदा मानने लगे. आख़िरकार नवंबर में यह लोगों तक पहुंच पाएगी.

सेंसर बोर्ड ने फ़िल्म में नग्न दृश्यों पर आपत्ति जताते हुए इसे पास करने से मना कर दिया था.

इसलिए साल 2008 से यह फ़िल्म रिलीज़ को तरस रही है.

रंगरसिया के मुख्य किरदारों में रणदीप हुड्डा और नंदना सेन हैं. यह फ़िल्म भारतीय पेंटर राजा रवि वर्मा के जीवन पर आधारित है.

विषय

इमेज कॉपीरइट ketan mehta facebook

केतन मेहता बताते हैं कि यह फ़िल्म अभिव्यक्ति की आज़ादी को रेखांकित करती है.

फ़िल्म के विषय को विस्तार से बताते हुए केतन कहते हैं, "राजा रवि वर्मा की तस्वीरों को आप भारतीय सिनेमा की प्रेरणा कह सकते हैं. मेरी फ़िल्म रवि वर्मा की तस्वीरों, उनकी प्रेम कहानी और कोर्ट में उन पर हुई कार्रवाई पर आधारित है."

केतन मेहता की आख़िरी फिल्म 'मंगल पांडेय- द राइज़िंग' थी जिसमें आमिर ख़ान ने मुख्य भूमिका निभाई थी.

केतन का कहना है कि वो ऐसी कोई व्यावसायिक फ़िल्म तब तक नहीं बनाना चाहते जब तक उनके पास कोई बेहद दमदार कहानी ना हो.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार