पापा की बात सुननी चाहिए थी : सोनम

  • 12 जनवरी 2015
सोनम कपूर इमेज कॉपीरइट UNIVERSAL PR

सोनम कपूर अपनी पिछली नाकामयाबियों के लिए पिता अनिल कपूर से सलाह ना लेने की 'अपनी ज़िद' को ज़िम्मेदार मानती हैं.

साल 2007 में सोनम ने अपना करियर फ़िल्म 'सांवरिया' से शुरू किया था लेकिन दर्ज़न भर फ़िल्में करने के बाद भी नाम-मात्र की सफलता उनके हाथ लगी है.

अपनी आने वाली फ़िल्म 'डॉली की डोली' के प्रचार अभियान के दौरान सोनम ने मीडिया से कहा, "मैं पहले पापा की बातों पर ज़्यादा ध्यान नहीं देती थी क्योंकि मैं नहीं चाहती थी कि उनका सहारा लूं."

उन्होंने आगे कहा, "अब मुझे लगता है कि मुझे उनसे सलाह लेनी चाहिए थी और ऐसा न करना मेरी गलती थी."

सोनम मानती हैं कि अब वो फ़िल्मों का चुनाव ज़्यादा सावधानी से करती हैं और फ़िल्म के बैनर से ज़्यादा उसकी कहानी और अपने किरदार पर ध्यान देती हैं.

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार