जेठालाल की दया, स्क्रीन के पीछे कैसी है!

  • 16 जनवरी 2015
दिशा वकानी

6 साल से दिशा सब टीवी के कॉमेडी सीरियल 'तारक मेहता का उल्टा चश्मा' में दिखाई दे रही हैं.

दिशा वकानी अपने अनोखे अंदाज़ से दया बेन का किरदार निभाती हैं और इस शो की पहचान बन गए कई किरदारों में से एक हैं.

15 साल की उम्र से वो गुजराती थिएटर में काम कर रही हैं. दिशा पर्दे पर दया के किरदार में जितनी बातूनी और चुगलबाज़ हैं, असल ज़िंदगी में उतनी ही चुप रहने वाली हैं.

उन्हें कई बार मीडिया से बात करने में परेशानी भी होती है क्योंकि वो अनजान लोगों के सामने खुल नहीं पाती.

बीबीसी हिंदी से हुई ख़ास मुलाक़ात में उन्होने बताई बहुत सारी अनसुनी बातें.

दया उर्फ दिशा

दिशा कहती हैं,"समय पलक झपकते ही बीत गया. कल ही की बात लगती है जब मैं अपने पहले हिंदी धारावाहिक के लिए काम करने आई थी. आपको जानकर हैरानी होगी कि हिंदी में ये मेरा पहला काम है और इससे पहले में गुजराती थिएटर में ही काम करती थी."

तारक मेहता के इतने समय चल पाने का पूरा श्रेय वो निर्माता असित कुमार मोदी और जेठालाल यानि दिलीप जोशी को देती हैं.

वो कहती हैं, "हमारे निर्माता असित कुमार मोदी का इस शो में विश्वास ही इस शो के हिट होने की बड़ी वजह है. मेरे कैरेक्टर पर दिलीप सर के इनपुट्स इतने होते हैं कि मुझे काफ़ी स्कोप मिल जाता है."

कॉमेडी है पुराना प्यार

दिशा ने बताया कि कॉमेडी से उनका लगाव बहुत पुराना है और इसे करते हुए वो कभी थकती नहीं हैं.

वो कहती हैं, "अगर मुझे ये किरदार पसंद नहीं होता तो शायद मैं बहुत पहले उब गई होती लेकिन ये मुझे अंदर से संतुष्टि देता है."

दया का किरदार निभाने के लिए दिशा को एक अलग तरीके की आवाज़ निकालनी पड़ती है और साथ ही अलग तरह का चेहरा बनाना पड़ता है क्या इससे उन्हें तक़लीफ़ नहीं होती ?

उन्होंने बताया, "दया की आवाज़ के लिए मुझे परेशानी इसलिए नहीं होती क्योंकि मैं पहले वॉइस ऑर्टिस्ट रह चुकी हूं और मुझे आवाज़ बनाने में महारत हासिल है. साथ ही ये एक गुजराती लड़की का किरदार है तो वो तो मैं ख़ुद हूं ही. ऐसे में किसी परेशानी का सवाल ही नहीं है."

दिशा को भी शादी करनी है

दिशा वकानी तारक मेहता में एक कुशल गृहणी का किरदार निभा रही हैं लेकिन असल ज़िंदगी में वो शादीशुदा नहीं है.

क्या उनपर शादी का कोई दबाव नहीं हैं? दिशा बताती हैं, "शादी का दबाव घर से तो नहीं है. हां, लोग कभी कभार पूछ लेते हैं कि क्या मैं शादी कर रही हूं? मुझे मालूम है वो दिन आएगा लेकिन जब उपरवाले की मर्ज़ी होगी तब."

दिशा की सबसे बड़ी प्रेरणा है उनके पिताजी भीम वकानी जो कि खुद भी एक थिएटर कलाकार रहे हैं.

वे कहती हैं, "पापा ने ही मुझे एक्टिंग से जोड़ा. अभिनय की पुस्तकें दी और ड्रामा कॉलेज में दाखिल होने के लिए कहा."

दिशा ने गुजरात कॉलेज से नाट्य में अपना डिग्री कोर्स किया है. वो कहती है,"थिएटर समय मांगता है और उससे बदले वो बहुत कुछ देता है. आजकल तो मंच के लिए समय नहीं निकलता लेकिन आगे समय मिलने पर में ज़रूर प्ले करूंगी."

माधुरी दीक्षित की दीवानी

इमेज कॉपीरइट AFP

दया ने डांस तो सिर्फ़ एक साल सीखा है लेकिन उनको डांस बहुत पसंद है.

इमेज कॉपीरइट tarak mehta ka ooltah chashma

वो बताती हैं, "मैं डांस ज्यादा सीख नहीं पाई. मुझे कथक बहत पसंद है और इसलिए मुझे माधुरी दीक्षित बहत ज़्यादा पसंद है. मैंने फ़िल्म 'लज्जा' और 'देवदास' में माधुरी दीक्षित के साथ काम किया है. और मुझे अभी भी याद है जब में उनके साथ फोटो लेने के लिए खड़ी हुई और मेरे गले से आवाज़ नहीं निकल रही थी."

तारक मेहता काफ़ी लंबे समय से जारी है लेकिन जैसे हर अच्छी चीज़ का अंत आता है इसका भी एक दिन आएगा. ऐसे में दिशा ख़ुद को कहां देखती हैं?

शो के बारे वो कहती हैं, "मैंने कभी भी अपनी ज़िन्दगी में योजना नहीं बनाई है और ना ही बनाउंगी. दया बेन के रोल ने मुझे बहत कुछ दिया है, में आज जो हूं सब कुछ इस रोल के बदौलत हूं. मेरे फैंस मेरे लिए बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि वही मेरे सबसे बड़े क्रिटिक है. उम्मीद है आगे भी कुछ अच्छा ही होगा."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार